मरीज़ों को अकेलेपन का एहसास नही होने देती फलाह-ए-हयात वेलफेयर सोसायटी

सम्भल – खून देने के नाम पर आज भी अपने साथ छोड देते है ऐसे में सोसायटी देती है साथ।मंगलवार की शाम बीमारी के चलते सक्सेना हॉस्पिटल डॉo प्रशांत को दिखाने आई मरीज़ नाजरीन पत्नी इशत्यक हुसैन निo चकली सराय तरीन का हीमोग्लोबिन 6% रह गया जिसको देख कर डॉo प्रशांत ने मरीज़ को ब्लड कम बता 2 यूनिट ब्लड चढ़ाने को कहा नाजरीन व उसके परिवार वाले सोचने लगे की माहे रमजान में इतनी तेज़ गर्मी ने ब्लड कौन देगा।
इस पर वहाँ दिखने आये किसी मरीज़ ने फलाय ए हयात वेलफेयर सोसाइटी के बारे में बताया जिस पर नाजरीन के पति ने सोसाइटी के उपाध्याक्ष आमिर सुहैल से बात की। आमिर सुहैल ने मरीज का ग्रुप पता किया जिस पर नाजरीन ने अपना ग्रुप A पॉज़िटिव बताया आमिर सुहैल ने Aपॉज़िटिव ग्रुप मेंबर से बात की जिस पर सोसाइटी मेम्बर ने रोज़े के अफ्तार बाद आमिर सुहैल के कहने पर सैय्यद रिहान पुत्र रईस अहमद निवासी चौधरी सराय व सितवत हुसैन पुत्र सोलत हुसैन निo कोट ने फलाह-ए-हयात वेलफेयर सोसायटी के उपाध्यक्ष आमिर सुहैल व मीर अकबर के कहने पर रक्तदान किया।
इस मौके पर नाजरीन व नाजरीन के परिवार वालो ने आमिर सुहैल मीर अकबर सैय्यद रेहान व सितवत हुसैन का आभार व्यक्त किया।

– सम्भल अंतिम विकल्प से सैय्यद दानिश की रिपोर्ट*

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।