कुतुबखाना पुल पर युवती के बाद अब युवक की मांझे से कटी गर्दन, बचाव के नही इंतजाम

बरेली। शहर के किला, शहामतगंज, चौपुला के बाद अब कुतुबखाना पुल पर भी लोग मांझे की चपेट मे आ रहे हैं। पुल पर मांझे से बचाव के लिए कोई इंतजाम नही किए गए है। रविवार की शाम एक युवक की गर्दन मांझे से कट गई। उसे बेटी ने अस्पताल मे भर्ती कराया। इससे पहले पुल पर एक युवती की भी मांझे से गर्दन कट गई थी। उसका अस्पताल मे इलाज चल रहा है। वही मंगलवार को एक युवक मांझे से कटने से बच गया तो उसने करीब दो घंटे तक लोगों को पुल पर खड़े होकर जागरूक किया। युवक का वीडियो वायरल हो रहा है। शहर के सनराइज एन्क्लेव निवासी रंजीत ने बताया कि वह रविवार की शाम को अपनी बेटी तान्या के साथ कुतुबखाना पुल से जा रहे थे। इसी दौरान उनके हेलमेट पर मांझा अटक गया। जब तक वह बाइक रोकते तब तक मांझे से गर्दन कट गई। गर्दन से खून निकलता देख बेटी भी घबरा गई। वह तुरंत अस्पताल पहुंचे। वहां डॉक्टरों ने बताया कि गनीमत रही कि नस नही कटी नही तो जान भी जा सकती थी। रंजीत ने बताया कि उन्होंने पुलिस को भी सूचना दी है। इससे पहले पुल पर रविवार को दिन मे बारादरी के संजयनगर निवासी पूजा यादव ने बताया कि रविवार को वह स्कूटी से कपड़े व अन्य सामान खरीदने के लिए आई थी। कुतुबखाना पुल पर जैसे ही स्कूटी पहुंची। वैसे ही चाइनीज मांझा उनकी गर्दन में अटक गया। जिससे जख्मी हो गईं। घायल होने पर स्कूटी अनियंत्रित होकर गिर गई। पूजा यादव की भी गर्दन मांझे से कट गई थी। पूजा को उनके भाई ने राहगीरों की मदद से जिला अस्पताल मे भर्ती कराया। अब उनकी हालत मे सुधार है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।