1992 मे राम मंदिर निर्माण को लिया संकल्प 31 वर्षो के बाद हो रहा है पूर्ण

* 18 जनवरी से 22 जनवरी तक नाथ नगरी बरेली के पशुपतिनाथ नाथ मंदिर में मनाया जायेगा उत्सव

बरेली- 1992 मे लिया गया संकल्प अब 31 वर्षो के बाद पूर्ण हो रहा है। इसलिए पशुपतिनाथ नाथ मंदिर मे भी 22 जनवरी को उत्सव मनाया जायेगा ।इस आयोजन को लेकर वन एवं पर्यावरण मंत्री डा0 अरूण कुमार सक्सेना जी व विश्व हिन्दु परिषद के पदाधिकारियों और मंदिर कमेटी के साथ बैठक हो चुकी है।
बता दे कि 1992 में श्री बद्रीनाथ धाम में श्रद्धेय जगतगुरु शंकराचार्य बद्रिका पीठाधीश्वर श्री वासुदेवानंद सरस्वती महाराज जी के सानिध्य व विश्व हिंदू परिषद के पंकज जी के निर्देशन में आचार्य श्री वामदेव मिश्र जी के द्वारा रुद्र महायज्ञ का आयोजन किया था। इस यज्ञ में पशुपतिनाथ/जगमोहनेश्वर नाथ मंदिर के संस्थापक जगमोहन सिंह जी मुख्य यजमान थे । इस यज्ञ का संकल्प अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर बनने का था। जो आज पूर्ण होता दिखाई दे रहा है।
22 जनवरी को राममंदिर मे भगवान राम की प्राण-प्रतिष्ठा होने के उपलक्ष्य में नाथनगरी बरेली के पशुपतिनाथ नाथ जगमोहनेश्वर नाथ मंदिर में पुन: रुद्र महायज्ञ एवं रूद्र महाभिषेक होगा। बैठक मे तय हुआ कि 18 जनवरी से रुद्र महायज्ञ एवं रूद्र महाभिषेक होगा। जो 22 जनवरी तक चलेगा इसी के साथ 22 जनवरी को रूद्र महायज्ञ की पूर्णाहुति के साथ ही भजन कीर्तन एवं सुंदरकांड का पाठ होगा शाम को देव दीपावली मनाई जायेगी।तथा अन्य मांगलिक कार्यक्रम भी संपन्न होंगे। यह जानकारी मंदिर के पुजारी मुकेश जी ने अंतिम विकल्प से साझा की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।