हाईवे किनारे उत्तराखंड के किच्छा की बोरी मे बंद मिला महिला का शव, गले को रस्सी से बांध की गई हत्या

बरेली। जनपद के थाना बिथरी चैनपुर क्षेत्र मे रामपुर हाईवे से सटे एक खेत मे सोमवार की दोपहर महिला का शव मिलने से सनसनी फैल गई। शव प्लास्टिक की बोरी में बंद था और महिला के गले को रस्सी से बांधा गया था। करीब 25 साल उम्र की महिला नारंगी रंग का सूट और गुलाबी रंग की सलवार पहने थी। आशंका है कि हत्या के बाद उसका शव फेंका गया है। सूचना मिलने के बाद एसपी नॉर्थ मुकेश मिश्रा, सीओ हाइवे नितिन कुमार मौके पर पहुंचे और शव को सील कराया। इस पर फोरेंसिक व डाग स्कवायड की टीम बुलाई गई। गले पर ऐसे निशान थे जिससे अंदेशा जताया जा रहा है कि उसी सुतली से युवती की गला दबाकर हत्या की गई। शरीर में अन्य कहीं भी चोट के कोई निशान नहीं थे। कपड़े अस्त-व्यस्त नहीं थे। गले में काले धागे में लाकेट के साथ वह कान में झुमकी पहने थी। नेमपालिश लगी हुई थी। जिस बोरी में युवती का शव रखा गया था, वह उत्तराखंड के किच्छा स्थित यादव ब्रांड के एक चोकर फैक्ट्री का है। बोरी के पास में ही शाही के राशिद क्लाथ हाउस के कैरी बैग में युवती के दो जोड़ कपड़े रखे मिले। संबंधित बैग के आधार पर पुलिस ने दुकान मालिक से संपर्क किया। पता चला कि दो साल पहले तक उसकी दुकान पर इस डिजाइन के कैरी बैग थे। खेत स्वामी शंकर लाल ने बताया कि रविवार को भी वह खेत आए थे तब कुछ नही था जिससे साफ हो गया कि शव को रात में ठिकाने लगाया गया। शव से कोई दुर्गंध नही थी जिससे रात मे ही हत्या के बाद उसे फेंके जाने की बात सामने आई। पहचान के लिए थाने के अलावा आस-पास के थानों में दर्ज गुमशुदगी देखी गई लेकिन, कोई सुराग नहीं मिला। दो गुमशुदगी के संबंध में चेहरा मिलता-जुलता दिखा। इस पर संबंधित के स्वजन से पुलिस ने संपर्क किया लेकिन दोनों की ओर से पहचान से इन्कार कर दिया गया। युवती की उम्र 25 वर्ष के बीच आंकी गई है। उसने नारंगी व पिंक कलर का सलवार कुर्ता पहन रखा है। युवती के बायें हाथ में अंग्रेजी अक्षर में पी व ए का लिखा है। उसमें पी से ठीक पहले रेते जाने का भी लंबा निशान है, जो ज्यादा पुराना नही है। पुलिस अधिकारी मान रहे है कि हत्या कही और हुई है। शव यहां फेंका गया है। उन्होंने बताया शव की पहचान करने की कोशिश की गई है। लेकिन महिला के शव की शिनाख्त नही हो पाई है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।