सूदखोरों से परेशान होकर उद्यमी ने की आत्महत्या, पांच करोड़ की प्रापर्टी हड़पी, 50 लाख मांगी रंगदारी

बरेली। जनपद बरेली मे सूदखोरों से परेशान एक युवा उद्यमी ने सल्फास खाकर आत्महत्या कर ली। सूदखोरों ने उसे एमसीएक्स का सट्टा खिलाया। बीस फीसदी ब्याज पर रुपये देकर पांच करोड़ की प्रापर्टी हड़प ली। ब्याज के 50 लाख और मांग रहे थे। सूदखोरों से तंग आकर उद्यमी ने सल्फास खा ली। गंभीर हालत मे उसे एसआरएमएस मे भर्ती कराया गया था। बुधवार को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराया है। शहर के कालीबाड़ी की रहने वाली ऊषा खंडेलवाल ने बताया कि उनके बेटे मानस खंडेलवाल के पास प्रिज्म सीमेंट का सीएंडएफ था। उनका 60 से 70 ट्रकों का ट्रांसपोर्ट था। चौपुला के पास मिट्टी के तेल का डिपो था। मानस रियल एस्टेट मे कालोनी भी विकसित कर रहा था। तीन साल से मेरा बेटा सूदखोरों के चंगुल मे फंस गया। सूदखोरों ने उसे एमसीएक्स सट्टा खिलवाया। मानस को 10 और 20 प्रतिशत ब्याज पर रुपये दिए। सूदखोरों ने मेरे बेटे के नाम पर चार करोड़ के दो मकान, एक फ्लैट, चार प्लाट अपने नाम रजिस्ट्री व एग्रीमेंट करवा लिए। सूदखोरों ने करोड़ों की प्रापर्टी हड़प कर परिवार को सड़क पर ला दिया। एक-एक रुपये को मोहताज कर दिया। मानस की मां बजुर्ग है। घर मे पत्नी एक 11 साल और दूसरी पांच साल की बेटी है। सूदखोरों ने मानस के पूरे परिवार को तबाह कर दिया। मासूम बच्चियों के सिर से उसके पिता का साया छीन लिया। मानस की मौत पर पूरे घर और परिवार मे कोहराम मचा है। मोर्चरी पर मौजूद मानस खंडेलवाल के भाई पंकज खंडेलवाल ने बताया कि चार करोड़ की प्रापर्टी के अलावा करीब एक करोड़ के दो डायमंड सेट, 45 तोला सोना, दस दस लाख की पांच एफडी भी सूदखोरों ने तुड़वाकर हड़प ली। मेरे भाई को ऐसा अपने जाल में फंसाया कि वह अपनी जान देकर छूटा। पंकज ने सूदखोरों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।