सुधारात्मक उपायों के द्वारा लाएं सड़क दुर्घटनाओं में कमी – पुरोहित

बाड़मेर/राजस्थान- मंगलवार को जिला कलेक्ट्रट कार्यालय में जिला कलेक्टर अरूण कुमार पुरोहित की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की और से समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान जिला पुलिस अधीक्षक दीगंत आनंद भी रहे मौजूद।

बैठक के दौरान जिला कलेक्टर अरूण कुमार पुरोहित ने जिला मुख्यालय पर जोधपुर की तरफ जाने वाली प्राइवेट बसों को रोकने के लिए होटल अशोका के सामने ओवर ब्रिज के नीचे एवं सिणधरी चौराहे के पास होटल ब्राहम्ण लॉज के आगे स्थान चिन्हित कर बसों को व्यवस्थित रूप से खड़ी करवाने को कहा। साथ ही चौहटन चौराहे पर प्राइवेट बसों के बुकिंग स्थल को सड़क से दूर बिल्डिंग लाइन के अन्दर ही रखने के निर्देश दिये। उन्होंने शहर के अन्दर से कार्गो सर्विस को हटवाकर अन्यत्र स्थान पर स्थापित करने, शहर में जगह-जगह नॉन वेण्डिंग जोन में खड़े हाथ थेलों को हटवाने तथा रामुबाई स्कूल के आगे नारियल, गन्ना ज्यूस व अन्य सामान बेचने के लिए ट्रेक्टर व छोटे वाहन दिनभर खड़े रहते है जिसकी वजह से यातायात में अव्यवस्था हो रही है जिनको अविलम्ब यहा से हटवाने के निर्देश दिये।

बैठक में जिला कलेक्टर पुरोहित ने जिला कलेक्टर कार्यालय एवं सार्वजनिक निर्माण विभाग कार्यालय के आगे अवरूद्ध ट्राफिक को हटवाकर यूआईटी कार्यालय के पीछे पार्किग स्थापित करने कहा। स्वामी विवेकानंद चौराहे पर लगीं हुईं यातायात गुमटी पिछले काफी वक्त से बन्द होने के कारण दुर्घटनाओं की रोकथाम के साथ ही यातायात सामान्य करने के लिए यातायात पुलिस के कर्मचारियों को लगाया जाए।इस दौरान उन्होंने सिणधरी चौराहे पर यातायात रेड लाइट लगवाने की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए बाड़मेर उपखण्ड अधिकारी द्वारा गठित संयुक्त टीम पीडब्ल्यूडी, नगर परिषद, यातायात पुलिस विभाग एवं एनएचएआई की निरीक्षण रिपोर्ट पर चर्चा कर आवश्यक कार्यवाही के निर्देश दिये।

उन्होंने मेगा हाइवे रामजी का गोल से गुड़ामालानी-सिणधरी तक दुर्घटना की रोकथाम के लिए किये गये सुधार कार्यो का जिला प्रशासन, सार्वजनिक निर्माण विभाग, रिडकोर एवं पुलिस विभाग के अधिकारियों द्वारा संयुक्त निरिक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने जलदाय विभाग के अधिकारियों को सिणधरी चौराहे से बीएनसी चौराहे तक तथा सर्किट हाउस से नवले की चक्की तक हाइवे के सर्विस लाइन सड़कों पर पानी की लिकेज पाईपों को पन्द्रह दिवस में दुरस्त कर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने इस अवसर पर एनएचएआई विभाग को कुशल वाटिका से जालिपा तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर रात्रि के समय रोड़ लाइट्स की व्यवस्था नहीं होने से रात्रि के समय में दुर्घटनाओं की संभावना को देखते हुए लाइट व्यवस्था सुनिश्चित करने एवं सड़क पर खड्डे भरवाने, सांचोर मार्ग पर झाड़ी कटिंग करवाने के निर्देश दिये। साथ ही कवास ओवर ब्रिज पर लगाई गई लोहे की एंगलों एवं सर्विस लाइन सड़क की मरम्मत करवाने को कहा।

बैठक में जिला कलेक्टर पुरोहित ने जिला शिक्षा विभाग के अधिकारियों को जिले में निजी व राजकीय विद्यालयों में बाल वाहिनी वाहनों के कागजात की आकस्मिक जांच करवाने, ओवरलोड वाहनों की रोकथाम एवं बाल वाहिनी ड्राईवरों के आंखो की जांच के लिए विद्यालय में विभाग के शिविर का आयोजन करवाकर कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने बाड़मेर उपखण्ड अधिकारी, जिला परिवहन अधिकारी, यातायात विभाग बाड़मेर एवं एनएचएआई विभाग के अधिकारियों की संयुक्त टीम को सिणधरी चौराहे पर ओवर ब्रिज के नीचे खाली जगह का निरीक्षण करवाकर टेक्सी प्रार्किग स्थापित करने को कहा।

इस दौरान जिला पुलिस अधीक्षक दीगंत आनंद द्वारा जिला शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिले में संचालित समस्त विद्यालयों में लगी बाल वाहिनियों की सूची बनाकर जिला परिवहन अधिकारी एवं पुलिस विभाग को दी जाये, साथ ही बाल वाहिनियों की नियमित रूप से नियमानुसार जांच करने के उपरान्त ही संचालन किया जाये।

बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर हेमेन्द्र नागर, अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्रपाल सिंह, बाड़मेर उपखण्ड अधिकारी, जिला परिवहन अधिकारी ओमप्रकाश चौधरी,भूरा राम प्रजापत, शिक्षा विभाग, चिकित्सा विभाग, सार्वजनिक निर्माण विभाग, पीएचईडी विभाग एवं परियोजना निदेशक राष्ट्रीय राजमार्ग समेत विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

– राजस्थान से राजूचारण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।