सीबीएसई बोर्ड का रिजल्ट घोषित, बच्चों ने मनाई खुशियां, एक दूसरे का मुंह किया मीठा

बरेली। सोमवार को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा (सीबीएसई) बोर्ड ने अचानक हाईस्कूल और इंटरमीडिएट का रिजल्ट जारी कर दिया। रिजल्ट घोषित होने की सूचना आते ही स्कूलों में सक्रियता बढ़ गई। छात्र-छात्राएं भी ऑनलाइन माध्यमों पर जाकर अपना रिजल्ट देखने लगे। प्राप्त रिजल्ट के अनुसार दिल्ली पब्लिक स्कूल के कक्षा 12 के छात्र अक्षर ज्ञान अत्री ने 98 प्रतिशत अंकों के साथ जिले मे पहला स्थान प्राप्त किया है । एसआर इंटरनेशनल स्कूल की छात्र गार्गी ने 97.6 अंकों के साथ दूसरा स्थान प्राप्त किया है जबकि बीबीएल पब्लिक स्कूल के स्टूडेंट आनंद मेहरोत्रा ने 97.4 प्रतिशत अंकों के साथ परीक्षा पास की है। वही पास हुए बच्चों ने खुशी का इजहार करते हुए एक दूसरे को मिठाई खिलाकर खुशियां मनाई। इस दौरान बच्चों ने बताया कि स्कूल और परिवार की मदद से वह में इस मुकाम पर पहुंचे। जिंगल बेल्स पब्लिक स्कूल की छात्रा अश्मी सक्सेना ने बिना किसी कोचिंग के 10वीं मे 92.8 प्रतिशत अंक लाकर अपने परिवार का नाम रोशन किया।वहीं जीआरएम की शुभि ने 91% अंक लाकर अपने परिवार का मान बढाया।बिना कोचिंग के आस्था आनन्द ने सीबीएसई 12वीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत अंक के साथ उत्तीर्ण की। इसे पहले भी वह बिना कोचिंग के 10वीं में भी 94 प्रतिशत प्राप्त किये थे। बीबीएल पब्लिक स्कूल की छात्रा आस्था आनन्द ने बताया कि वह साधारण परिवार से है। पिता अरविन्द आनन्द का फोटोग्राफी का व्यवसाय है, माता गृहणी है। सीमित आय के कारण महंगी कोचिंग नही कर पाई। घर पर ही रह कर तैयारी की। इस सफलता में अपने माता-पिता व दोनों चाचा का मार्ग दर्शन रहा। आगे बीटेक करने का इरादा है। वही कर्मचारी नगर निवासी दल साहिब दिलीप कुमार के बेटे यश कुमार ने 93.5 प्रतिशत अंक लाकर कर अपने परिवार का नाम रोशन किया। दिलीप ने बताया कि वह आगे जाकर चार्टर्ड अकाउंटेंट बनाना चाहेंगे। उनके स्कूल के साथ-साथ परिवार का भी सहयोग है। इस दौरान स्कूल वालों ने भी छात्रों को बधाई दी।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।