शिव मंदिर परिसर में हुआ 51 जोडों का सामूहिक विवाह

गाजीपुर – ब्लाक के पौराणिक महत्व वाले धार्मिक स्थल महाहर धाम शिव मंदिर के परिसर में शुक्रवार को को 51 जोड़ों की सामूहिक शादी धर्म और रीति रिवाज से सम्पन हुआ।हवन मंडप के सामने वर और कन्या ने एक दूसरे के गले मे जयमाल डाले और अग्नि के सामने साथ फेरों की परिक्रमा किया।शादी समारोह में 1 मुस्लिम जोड़ों का निकाह भी हुआ।मुस्लिम समुदाय के लोगों ने हिन्दू मुस्लिम एकता की जमकर तारीफ किया।बाराचवर ब्लाक के टोड़रपुर के ग्राम प्रधान मुन्ना कुमार राजभर के सकुशल प्रयास से सामूहिक विवाह अन्तर्गत एक साथ 51 जोड़ों की शादी कराकर विकासखण्ड में रिकार्ड बनाया ।अभी तक मरदह विकासखंड में एक साथ इतनी बड़ी संख्या में शादी नही हुई है।शादी समारोह में पहुचे पूर्व राज्यमंत्री जैकिशुन साहू ने सभी जोड़ों को दान स्वरूप एक पंखा भेंट कर आर्शिवाद दिया ।शादी समारोह में एक मुस्लिम जोड़ो का निकाह हुआ। निकाह के लिए काजी ने निकाह की रस्म अदाई कर निकाह सम्पन कराया।-विदाई में बकायदे बेड, बक्सा, पंखा, अटैची, वर बधू को कपड़ा, मिठाई भेंट दि ।इस आयोजन को वैदिक मंत्रों से सम्पन कराने में मुख्य भूमिका निभाने के लिए आचार्य पं उदय नरायण उपाध्याय, पं श्रीराम उपाध्याय, पं शिव कैलाश, अजय चौबे,रामकृपाल मिश्रा ने समारोह को सम्पन कराया।इस शादी में आर्शिवचन के लिए पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सिंह,पूर्व राज्यमंत्री रामदुलार राजभर,जंगीपुर विधायक विरेन्द्र यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष आशा यादव,पूर्व प्रमुख विजय सिंह यादव, राजीव यादव राजू,दीपक सिंह,शैलेश यादव,ललिता यादव,राणाविजय राजभर,आकाश राजभर,सविता यादव,विरेन्द्र यादव,रामभजन,सीओ कासीमाबाद डां कृष्णकांत सरोज,सीओ मुहम्मदाबाद,थानाध्यक्ष मरदह,विरनो,रामाश्रय यादव,लालजी यादव,योगेन्द्र राजभर,मनोज राजभर,चन्द्रहास राजभर,रमायन शर्मा,नंदलाल राजभर,ओमप्रकाश चौबे,कपिलमुनी यादव,आर्यन सिंह,इस शादी समारोह में कासीमाबाद सीओ डां कृष्णकांत सरोज की धर्मपत्नी दीप्टीलता सरोज का सराहनीय सहयोग रहा जो चेतना फाउंडेशन एण्ड वेलफेयर ट्रस्ट के तहत पूरे समय तक कार्यक्रम में बनी रही और सहयोग प्रदान किया जो इस ट्रस्ट की खुद अध्यक्ष है जो मिर्जापुर जिले के मोहनपुर में संचालित होती हैं ।आदि लोग उपस्थित रहे।

– गाजीपुर से प्रदीप दुबे की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।