विश्व प्रसिद्ध रामलीला के पांचवे दिन धनुष यज्ञ लीला का हुआ मनमोहक मंचन

बरेली। बामनपुरी में चल रही श्री रामलीला के पाचवें दिन कलाकारों ने सीता स्वयंवर व धनुष यज्ञ की लीला का शानदार मंचन किया। सीता स्वयंवर में भगवान श्री राम ने शिव धनुष को उठाया तो पूरा पंडाल जय श्रीराम के जयकारे से गूंज उठा। रामलीला की शुरूआत में जनकपुर में जनक जी अपनी पुत्री सीता के स्वयंवर के लिए देश देशांतर के राजाओं को बुलवाते हैं और शिव धनुष को उठाने व प्रत्यंचा चढ़ाने की शर्त रखते हैं, कोई भी राजा धनुष को हिला नहीं पाता है। राजा जनक के अभिनय ने दर्शकों को भावविभोर कर दिया। इस दौरान रावण-बाणासुर के ओजस्वी संवादों को सुनकर श्रद्धालु रोमांचित हो उठे। अंततः रावण स्वयंवर सभा छोड़कर लंका वापस लौट जाता है उधर जब सारे राजा धनुष पर प्रत्यंचा चढ़ाना तो दूर, उसे तिल भर हिला तक नहीं पाते हैं तो यह देखकर राजा जनक अधीर हो उठते हैं और करुण विलाप करते हैं वो इस आशंका से भयभीत हो जाते हैं कि उनके इस कठिन प्रण के चलते सीता जी जीवन भर कुंवारी ना रह जाएं, वह हताशा भरे गुस्से में आकर सबको ताना देते हैं और पृथ्वी को वीरों से खाली बता देते हैं, इस बात से लक्ष्मण जी क्रोधित हो जाते हैं और अपनी प्रतिक्रिया तीखे संवादों से देते हैं तब राम जी अपने अनुज को शांत करते हैं अंत में प्रभु श्री राम गुरू विश्वामित्र की आज्ञा से शिव धनुष को उठा कर प्रत्यंचा चढ़ाते हैं, फिर सीता जी राम जी का विवाह संपन्न हो जाता है। गुरु व्यास मुनेश्वर जी कहते हैं कि

गावहिं छबि अवलोकि सहेली सियँ जयमाल राम उर मेली।

शिव धनुष तोड़ने की आहट हिमालय पर्वत तक जाती है। इसकी सूचना परशुराम जी को होती है और वे स्वयंवर स्थल पर पहुंच जाते हैं। यहां राम व लक्ष्मण से उनका संवाद होता है।

दर्शकों ने इस भावपूर्ण मंचन देख कर बहुत आनंद लिया। इस अवसर पर रामलीला कमेटी के पदाधिकारीयों ने आरती पूजन करके लीला का शुभारंभ कराया। प्रवक्ता विशाल मेहरोत्रा ने बताया कि कल भव्य श्री राम बारात निकलेगी, जिसके मुख्य अतिथि खत्री सभा अध्यक्ष अनुपम कपूर, डॉ विनोद पागरानी, भाजपा के महानगर अध्यक्ष अधीर सक्सेना होंगे, जिसका जगह-जगह स्वागत-सत्कार होगा, साथ ही मोदी और योगी जी को राम मंदिर निर्माण व प्राण प्रतिष्ठा हेतु धन्यवाद दिया जाएगा। अध्यक्ष सर्वेश रस्तोगी ने बताया कि कल की राम बारात अद्भुत होगी, हमारी कमेटी ने पूरी तैयारी कर ली है, सभी रामभक्तो से निवेदन है बारात में किसी भी प्रकार का नशा न करे।

अन्य पदाधिकारियों में पंकज मिश्रा, राजू मिश्रा, लवलीन कपूर, नवीन शर्मा, विवेक शर्मा, गौरव सक्सेना, दिनेश दद्दा, पंडित सुरेश कटिहा, नीरज रस्तोगी, दीपेन्द्र वर्मा, धीरेन्द्र दीक्षित, पंडित विनोद शर्मा, अभिनय रस्तोगी आदि मौजूद रहे।

– बरेली से सचिन श्याम भारतीय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।