वाल्मीकि प्रकटोत्सव पर विचार गोष्ठी, सम्मान समारोह और भंडारे का सफल आयोजन

मुजफ्फरनगर। भगवान वाल्मीकि प्रकट उत्सव पर आयोजित विचार गोष्ठी, सम्मान समारोह, और भंडारे का आयोजन बड़ी उत्साह और धूमधाम के साथ सम्पन्न हुआ।
वाल्मीकि समाज द्वारा दयानन्द धर्मशाला, पटेलनगर, नई मंडी में आयोजित विचार गोष्ठी में वक्ताओ ने भगवान वाल्मीकि के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि उनके द्वारा रचित रामायण से ही आज समाज चल रहा है। उन्होंने भगवान श्री राम के जन्म से हजारों वर्ष पहले ही रामायण लिख दी थी। इसलिए भगवान वाल्मीकि को त्रिकालदर्शी कहा जाता है उनके जीवन से हमे प्रेरणा लेनी चाहिए वे देवो के देव भी कहलाते है। इस अवसर पर समाज के लिए उल्लेखनीय कार्य करने वाले समाज सेवियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। कार्यक्रम को सपा जिलाध्यक्ष प्रमोद त्यागी, पुरकाजी से राष्ट्रीय लोकदल के विधायक अनिल कुमार, भाजपा नेता राजकुमार सिद्धार्थ, क्रान्ति सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललित मोहन शर्मा, सहारनपुर मण्डल अध्यक्ष अमित अग्रवाल उर्फ बंटी, सपा नेता राकेश शर्मा, रामनिवास पाल, वरिष्ठ अधिवक्ता गुलबीर सिंह चिकारा, पूर्व प्रधान मुकेश कुमार, भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष रजत निठारिया, भीम आर्मी मेरठ के जिला संयोजक बिजेंद्र सूद, भाजपा नेता हरेंद्र पाल, ओ पी गौतम, लोकदल नेता वेदपाल गहलोत , सन्नी सिलेलान, रमेश चंद मेवाती, संजय सिंह नवजोत, पप्पन कागडा, सुनील धमात, सोनिया प्रधान, भाजपा नेता योगेश वाल्मीकि, मदन लाल चंद्रा पूर्व मंत्री, प्रेम प्रकाश सुधा, रणधीर सिंह,दीपक आदि ने सम्बोधित किया। इस अवसर पर मनोज सौदाई एडवोकेट, मास्टर संजीव गहलौत, मनुप्रिय मजदूर, राजू प्रधान, सुधीर पारचा, अनुज बेनीवाल, रविंद्र बेनीवाल, राजकुमार बेनीवाल, शीलू बेनिवाल, कुंवर प्रमेश्वर सिंह, पिंटू पारचा, अर्जुन टांक, संजय भारती नई मंडी, सुधीर मचल, सरलू श्री पाल पाहीवाल, सोहन लाल वाल्मीकि, मोंटी, वीरेश शेरयार, आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्यामलाल बेनीवाल और संचालन महक सिंह वाल्मीकि ने किया।

– हरिद्वार से तस्लीम अहमद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।