लकड़ी कटर मशीन की चपेट में आने से महिला की दर्दनाक मौत

* जाँच पड़ताल में जुटी स्थानीय पुलिस

* जिले भर में चल रहीं है अवैध आरा मशीने एंव कटर मशीन

* सम्बंधित विभाग सहित जिला प्रशासन सोया कुम्भकर्णी नींद।

मुजफ्फरनगर- यूपी के जनपद मुजफ्फरनगर में स्थित भोपा थाना क्षेत्र में एक महिला की उस वक्त दर्दनाक मौत हो गई जब महिला लकड़ी कटर मशीन की चपेट में आ गई एका एक हुए इस दर्दनाक हादसे से जहां मोके पर अफरातफरी का माहौल बन गया तो वहीं सूचना मिलते ही मोके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने मामले की जानकारी करते आगे की जाँच पड़ताल शुरू कर दी है बताया जा रहा है की महिला तीन चार साल से यहाँ काम कर रही थी मृतका के परिजन मुआवजे की मांग कर रहे है उधर पुलिस का कहना है की अभी शव कब्जे में नही लिया गया है परिजनों द्वारा अगर तहरीर दी जायेगी तो कार्यवाही करेंगे।

बता दें जनपद भर में चल रहीं है अवैध आरा मशीने व् कटर मशीन हो रहा बड़े पैमाने पर राजस्व नुकसान जा रही है जान मॉल भी।यूपी के जनपद मु0 नगर में भोपा मोरना,चरथावल,पुरकाजी जैसे इलाकों में वर्षों से चल रहा अवैध आरा मशीनों सहित कटर मशीनों का गौरख धंधा,अवैध आरा मशीनों एंव कटर मशीनों से रोजाना लाखों रूपये की लकड़ी काटकर भेजी जाती है दूसरे राज्यों में,राजस्व को पहुंचाया जा रहा है भारी नुकसान,

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के आदेशों के बाद भी नही जाग रहा जिला प्रशासन नही की जाती इन अवैध आरा मशीनों सहित कटर मशीनों पर कार्यवाही,

ईन मशीनों पर चोरी छिपे लाखो के पेड़ भी मिन्टो में काटकर लगा दिए जाते है ठिकाने पर,
सूत्रों की अगर माने तो एक आद को छोड़कर बाकि सब चल रहीं है बिना लाइसेंस,

यहीं नही महिलाओं सहित बच्चों से भी कराया जाता है यहां काम हर समय रहता है जान माल का नुकसान आखिर किसके इशारे पर चल रही है अवैध आरा मशीने व् कटर मशीन ,

वन विभाग सहित जिला प्रशासन क्यों सोया है कुम्भकर्णी नींद, आज फिर हुआ दर्दनाक हादसा भोपा क्षेत्र में कटर मशीन की चपेट में आने से भोपा निवासी सीता पत्नी कृष्णपाल की हो गई मोके पर ही दर्दनाक मौत जिम्मेदार कौन????।

उधर सूचना पर पहुंची स्थानीय पुलिस जाँच पड़ताल में जुटी।भोपा थाना क्षेत्र के भोपा मु0 नगर मार्ग की घटना।।

– रिपोर्ट भगत सिंह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।