योगी सरकार ने 43 आइपीएस अधिकारियों को भी किया इधर से उधर

लखनऊ- योगी सरकार में कल हुए आइएएस अधिकारियों के तबादलों के बाद आज आइपीएस अधिकारियों को भी इधर-उधर कर दिया गया है। सरकार का साफ संकेत है कि लापरवाही किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं की जायेगी।
उत्तर प्रदेश में 43 आईपीएस अफसरों के तबादलों मे पद्मजा चौहान आईजी भर्ती बोर्ड बनाए गए लव कुमार डीआईजी कारागार प्रशासन बने चंद्र प्रकाश डीआईजी पीटीएस उन्नाव बने
प्रीतिंदर सिंह डीआईजी कारगार प्रशासन वैभव कृष्ण एसएसपी गाजियाबाद बने एचएन सिंह 23वीं वाहिनी के सेनानायक मुरादाबाद डॉ अजय पाल एसएसपी नोएडा बनाए गए
देवरंजन वर्मा एसपी शामली बनाए गए संतोष कुमार एसपी प्रतापगढ़ बनाए गए शगुन गौतम एसपी पुलिस मुख्यालय इलाहाबाद अशोक कुमार एसएसपी बदायूं लल्लन सिंह एसपी गोंडा बनाए गए उमेश कुमार सिंह एसपी बिजनौर बनाए गए प्रभाकर चौधरी एसएसपी मथुरा बनाए गए स्वप्निल ममगई सेनानायक 44वीं वाहिनी मेरठ
राहुल राज एसपी बलिया बनाए गए अनिल कुमार सेनानायक विशेष परिक्षेत्र सुरक्षा वाहिनी लखनऊ सलमान ताज पाटिल एसपी तकनीकी सेवाएं लखनऊ
ओपी सिंह एसपी ललितपुर बनाए गए शलभ माथुर एसएसपी गोरखपुर बनाए गए गोरखपुर के एसएसपी सत्यार्थ अनिरुद्ध हटाए गए सत्यार्थ अनिरुद्ध पंकज एसपी कार्मिक यूपी जेके शुक्ला एसपी प्रशिक्षण एवं सुरक्षा लखनऊ राठौर किरीट एसपी कन्नौज हरीश चंद्र एसपी क्षेत्रीय अभिसूचना फैजाबाद नागेश्वर सिंह एसपी औरैया संजीव त्यागी सेनानायक 9वीं पीएसी मुरादाबाद अशोक त्रिपाठी एसएसपी इटावा दिलीप कुमार एसपी बस्ती संकल्प शर्मा एसपी ट्रैफिक निदेशालय लखनऊ रविंदर गौड़ एसएसपी मुरादाबाद बने अनिल कुमार सिंह एसपी एससीआरबी लखनऊ वीपी श्रीवास्तव एसपी बाराबंकी
रोहन कनय एसपी देवरिया अशोक पांडेय एसपी कुशीनगर बनाए गए हेमराज मीणा सेनानायक 26वीं पीएसी गोरखपुर शैलेश पांडेय एसपी संतकबीरनगर विनोद कुमार सिंह एसएसपी झांसी मनोज कुमार झा चित्रकूट के नए एसपी यमुना प्रसाद एसपी क्राइम डीजीपी मुख्यालय राकेश शंकर एसपी सुरक्षा लखनऊ प्रताप गोपेंद्र यादव एसपी पीटीएस मुरादाबाद
सुजाता सिंह एसपी वूमेन पॉवर लाइन शिवशंकर सिंह एसपी पीटीएस मुरादाबाद

देवेन्द्र प्रताप सिंह प्रभारी एवी न्यूज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।