या हुसैन की सदाओं से गूंज उठा आसमां, पुलिस रही मुस्तैद

बरेली/फतेहगंज पश्चिमी। कोरोना के कारण दो साल के बाद ताजियों का जुलूस निकला। कस्बे के पुराने तीन ताजिये मे से एक बीच का मोहल्ला वाला ताजिया जुमेरात को उठाया गया। उसके बाद मोहर्रम की चांद की आठ तारीख का ताजिया भारी भीड़ भाड़ के साथ इमामवाड़े से निकाला गया। इस दौरान या हुसैन की सदाओं से आसमां गूंज उठा। ताजिया कस्बे के उन तीन प्रमुख और पुराने ताजियों मे से एक है जो कि बहुत पुराने तख्त ताजिए हुआ करते थे। मोहर्रम की नौ तारीख व दस तारीख को भारी भीड़ भाड़ रहती है। इस दौरान- सदर इरशाद अहमद, हाजी इतवारी, छोटा शराफत, वली हसन, मोहम्मद आरिफ, आदि तमाम लोग व्यवस्था में लगे रहे। सुरक्षा के मद्देनजर चौकी प्रभारी ललित कुमार दल वल के साथ मुस्तैद रहे।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।