मौलाना तौकीर रजा को गिरफ्तार कर जेल भेजने की मांग, निकाला पैदल मार्च

बरेली। गुरुवार को श्री चित्रगुप्त पीठ वृंदावन के पीठाधीश्वर स्वामी सच्चिदानंद चौकी चौराहा के पास दामोदर स्वरूप पार्क पहुंचे। जहां से अपने अनुयायियों के साथ आईजी ऑफिस तक पैदल मार्च निकालकर आईएमसी प्रमुख मौलाना तौकीर रजा खान पर मुकदमा दर्ज करके गिरफ्तारी की मांग की। इसको लेकर आईजी को ज्ञापन भी दिया। इस दौरान स्वामी सच्चिदानंद ने कहा कि मौलाना तौकीर रजा लंबे समय से समुदाय विशेष के लोगों को भड़का कर बरेली को दंगे की आग में धकेलने की कोशिश कर रहे है। इससे पहले 2010 और साल 2017 मे एक सार्वजनिक मंच से मौलाना तौकीर ने हिंदू धर्म की महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के साथ ही धार्मिक आस्था को ठेस पहुंचाते हुए दंगा भड़काने का प्रयास किया था। जबकि बीते दिनों कोर्ट से काशी के ज्ञानव्यापी मंदिर में हिंदुओं को पूजा का अधिकार मिलने का विरोध जताते हुए जेल भरो आंदोलन का ऐलान किया था। साथ ही हल्द्वानी हिंसा का हवाला देते हुए भड़काऊ भाषण देकर मुस्लिम समुदाय के युवाओं को भड़काया। जिसके चलते शामतगंज बाजार मे पथराव और लोगों के साथ मारपीट की गई। स्वामी सच्चिदानंद ने आगे कहा कि संदीप शर्मा ने 250 वर्ष प्राचीन लक्ष्मी नारायण मंदिर की जमीन को फर्जी तरीके से बेच दिया है। इस जमीन को मुक्त कराकर मंदिर को वापस दिलाया जाए। उन्होंने आईजी को दिए हुए पत्र में मौलाना तौकीर रजा और संदीप शर्मा के साथ इनके सहयोगियों पर मुकदमा दर्ज कर तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। पैदल मार्च निकालने मे नीतीश रस्तोगी, संजय शर्मा, धर्मप्रकाश रस्तोगी, प्रदीप रस्तोगी, दीपक पाठक, अनिल मिश्रा, अमित राठौर, कमल टंडन, मित मिश्रा, संजीव अवस्थी आदि मौजूद रहे।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।