मानवता के लिए जरूर करें रक्तदान ये जीवन का सबसे बड़ा महादान : मंसूरिया

राजस्थान/बाड़मेर- भारत रत्न संविधान निर्माता डॉ.भीमराव अम्बेड़कर की जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित किए जा रहे पाँच दिवसीय कार्यक्रम की शुरुआत रक्तदान शिविर के साथ हुई। अम्बेड़कर जयंती समारोह समिति, विभिन्न संस्थानों तथा सर्वधर्म समाज द्वारा आयोजित राजकीय चिकित्सालय बाड़मेर में विशाल रक्तदान शिविर का शुभारम्भ राजकीय चिकित्सालय के प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. बी.एल. मंसूरिया, उप नियंत्रकडॉ. प्रतीक सागर, शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. हरीश चौहान, स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ जगराम मीणा, डॉ. कमला वर्मा, डॉ. गोरधनसिंह चौधरी, डॉ. गिरीश बानिया, डॉ. शालू परिहार, डॉ. सिद्धार्थ चौहान, नर्सिंग अधिकारी संतोष चौधरी, अम्बेडकर जयंती समारोह समिति के पूर्व संयोजक छगनलाल जाटोल, समारोह समिति के संयोजक ईश्वरचंद नवल, कार्यक्रम प्रभारी विक्की मंसुरया, कोषाध्यक्ष प्रेम परिहार, पूर्व संयोजक भेरूसिंह फुलवारिया, तगाराम खती, श्रवण चन्देल द्वारा फीता काटकर किया गया।

इस दौरान प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. बी.एल. मंसूरिया ने कहा कि किसी की जिन्दगी बचाने के लिए रक्तदान जैसा पुनित कार्य करना अपने आप में सराहनीय है। ऐसे पुनित कार्य में हम सभी की भागीदारी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि बाबा साहेब अम्बेड़कर ने देश को पवित्र ग्रंथो के रूप में संविधान दिया जो हर व्यक्ति वर्ग को सम्मानता का अधिकार प्रदान करता है।

इस दौरान डॉ. हरीश चौहान ने कहा कि रक्तदान शिविर अनुकरणीय पहल है, इससे पीड़ित व्यक्ति को आपातकाल में जीवनदान मिलता है। इस दौरान डॉ. जगराम मीणा ने कहा कि समारोह समिति छतीस कौम को साथ लेकर जो ऐतिहासिक आयोजन कर रही है जो सराहनीय कार्य है। हम सभी का जो बाबा साहेब के प्रति कर्तव्य है कि उनकी जयंती सभी मिलकर उत्साहपूर्वक मनाएं।

उप नियंत्रकडॉ. प्रतीक सागर ने कहा कि हर वर्ष की भांति विभिन्न कार्यक्रम होते है लेकिन इस बार जो छत्तीस कौम मिलकर जो आयोजन कर रही है ये सही मायनों में बाबा साहेब के सपनो को साकार कर रही है। पूर्व संयोजक छगनलाल जाटोल, तगाराम खती व श्रवण चन्देल ने कहा कि रक्तदान के लिए जो पूर्व में भ्रांतियां थी वो अब दूर हो गई है, हर वर्ग इस पुनीत कार्य में अपनी भागीदारी निभा रहा है। हम सब रक्तदान अवश्य करना चाहिए।

कार्यक्रम का संचालन साथी रक्तदान समूह के संयोजक अबरार मोहम्मद ने किया अबरार के बारे में एक बात मशहूर है कि मरीज चाहे कोई भी हो लेकिन बाड़मेर जिले में रक्तदान करने वाले रक्तवीरो के बड़े जत्थे के साथ सदा अस्पताल में हाजिर रहते हैं। ब्लड बैंक के डॉ महेश कुमार, सीनियर लेब टेक्निशियन धर्मनारायण, एलटी ललित मोहन खत्री, एलटी बाबूलाल, एलटी भलाराम, सवाई माली, लक्ष्मण जयपाल, मदनलाल का सराहनीय सहयोग रहा।

इस दौरान पूर्व संयोजक डॉ. राहुल बामणिया, भैरूसिंह फुलवारिया, सुरेश जाटोल, उमाशंकर फुलवारिया ने भी अपने विचार रखते हुए इस पुनीत कार्य में सभी की भागीदारी की बात कही। कार्यक्रम की संपूर्ण जानकारी कार्यक्रम प्रभारी विक्की मंसुरिया ने दी। वहीं धन्यवाद समारोह समिति संयोजक ईश्वर चन्द नवल ने व्यक्त किया।

इस अवसर पर अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी भगवान दास बारूपाल, वैरसीराम वैंकट, करनाराम मारूड़ी, विशनाराम जाटोल, डॉ. मोहित सिंह तंवर, जोधाराम, अजयनाथ गोस्वामी, सी.पी.गौसांई, मोहनलाल कोडेचा, विजेन्द्र, नेमाराम, राकेश कुलदीप, रमेश पंवार, अचलाराम पंवार, रमेश कड़ेला, खेतपाल टाइगर, विमला बृजवाल, पूर्व छात्रसंध अध्यक्ष छगन मेघवाल, हीरालाल खोरवाल, श्रवण जाटोल, खीम करण खीची, हरदेव जेलिया, सोहनलाल मंसूरिया, लक्ष्मण जयपाल, हेमंत गौसांई,पुखराज सुवांसिया, जितेन्द्र जाटोल, बलदेव फुलवारिया, प्रकाश फुलवारिया, फूलाराम खन्ना, नरेश बारूपाल, रमेश, गौरव, मिश्रमल, पूराराम भाटिया सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।

– राजस्थान से राजूचारण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।