बिल्डर रमेश गंगवार के साथ शहर के नामचीन बिल्डरो से घंटों पूछताछ, खातों में करोड़ों का लेनदेन, शहर के कई और बिल्डर भी शामिल

बरेली। बिल्डर रमेश गंगवार के ऑफिस और घर पर तीसरे दिन भी इनकम टैक्स की टीमों ने जांच पड़ताल की। इसके साथ ही टयूलिप ग्रांड के फ्लैट में बोरों में मिले रजिस्ट्री और एग्रीमेंट के दस्तावेजों ने जांच का रुख शहर के बड़े बदनाम बिल्डरों की ओर मोड़ दिया है। गुरुवार की रात से लेकर शुक्रवार की दोपहर और फिर शाम को इनकम टैक्स की टीमें बिल्डर हरप्रीत सिंह रिंकू से पूछताछ कर रही है। मोबाइल जब्त कर उनके बाहर आने जाने पर प्रतिबंध लगा दिया है। बीडीए आफिस के पास प्रियदर्शिनी नगर के रहने वाले शहर के बड़े प्रापर्टी डीलर सुनील सिंह के घर पर बुधवार को ही इनकम टैक्स की टीम पहुंच गई थी। उनके घर से करोड़ों का कैश, जवैलरी और ठेकेदार रमेश गंगवार व भानू गंगवार से लेनदेन के सबूत मिले हैं। इसके अलावा रमेश गंगवार के घर से भी मोटी रकम मिली है। सुनील सिंह के घर और बैंक खाते से विवेक भारती का कनेक्शन निकला। गुरुवार को टीम विवेक भारती के स्टेडियम रोड स्थित रेजिडेंसी गार्डन वाले घर पहुंची। विवेक भारती से उनके आफिस में पूछताछ की गई। उनका मोबाइल कब्जे मे लिया गया। विवेक भारती को बैंक ले जाया गया। उनके खाते चेक किए गए। उनके बैंक खातों में भी करोड़ों का लेनदेन सामने आया है। उनकी जांच पड़ताल चल रही है। शुक्रवार को सुनील सिंह और भानू गंगवार के घरों से जांच पड़ताल कर इनकम टैक्स की टीमें चली गई। लेकिन टयूलिप ग्रांड स्थित फ्लैट, अर्बन कोआपरेटिव बैंक के सामने सत्य साई बिल्डर रमेश गंगवार के आफिस को कैंप बनाकर जांच पड़ताल जारी रही। माडल टाउन के रहने वाले बिल्डर हरप्रीत रिंकू को पहले टीम ने जांच के लिए टयूलिप ग्रांड बुलाया। बाद मे उनके स्टेडियम रोड स्थित आफिस मे भी घंटों पूछताछ की गई है। टयूलिप ग्रांड के फ्लैट मे सबसे ज्यादा दस्तावेज हरप्रीत सिंह रिंकू, गुरप्रीत सिंह बाॅबी, एलायंस बिल्डर के मिले हैं। इनकम टैक्स की टीम ने सभी बिल्डरों की सूची तैयार की है। इनकम टैक्स के सूत्रों के मुताबिक विवेक भारती के जरिए टीम हरप्रीत सिंह रिंकू तक पहुंची। इसके बाद गुरुप्रीत और एलायंस बिल्डर्स की भी सूची तैयार की गई है। ठेकेदार रमेश गंगवार, भानू और सुनील सिंह की जांच रिपोर्ट तैयार हो गई है। प्राथमिक रिपोर्ट में लखनऊ, कानपुर और प्रयागराज की इनकम टैक्स की टीमों के अफसरों ने अपने दस्तखत किए हैं। इसके अलावा बरेली जोन के इनकम टैक्स कमिश्नर भी रमेश गंगवार के शुक्रवार दोपहर को रमेश गंगवार के आफिस पहुंचे। उन्होंने टीमों से बातचीत कर जायजा लिया। इसके बाद इस पूरे मामले की रिपोर्ट दिल्ली भेजी गई है। इनकम टैक्स के रेडार पर शहर के कई और बिल्डर भी हैं। उनके नाम की सूची तैयार की गई है, लेकिन वह मोबाइल बंद कर फरार हो गए है। कुछ बिल्डरों ने तो बरेली छोड़ दिया है। इनकम टैक्स की टीम ने अब शहर के एक होटल को अपना ठिकाना बनाया है। होटल के जरिए आगे की जांच पड़ताल संचालित की जा रही है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।