फरीदपुर मे पांच लोगों की मौत की गुत्थी सुलझाने को सीन रिक्रिएशन के लिए भेजा रिमाइंडर

बरेली। जनपद के थाना फरीदपुर क्षेत्र के फर्रखपुर मोहल्ले मे अजय गुप्ता, पत्नी अनीता और तीन बच्चों की जिंदा जलकर मौत होने के बाद हत्या और हादसे में उलझी गुत्थी सुलझाने को फरीदपुर पुलिस ने सीन रिक्रिएशन कराने को लखनऊ की विज्ञान प्रयोगशाला मे रिमाइंडर भेजा है। 28 जनवरी सुबह फरीदपुर के फर्रखपुर के अजय गुप्ता (36), पत्नी अनीता (34), बेटा देवांश (09), बेटी दिव्यांका (06) और छोटा बेटा दक्ष (03) कमरे मे मृत मिले थे। कमरे मे आग से सारा सामान जल गया था। कमरे मे हीटर और ब्लोअर भी चलते मिलते थे। इस आधार पर पुलिस ने ऑक्सीजन की कमी से बेहोश होने और फिर जलकर मौत होने का तर्क देते हुए इस घटना को हादसा करार दिया था। परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर अंतिम संस्कार रोक दिया था। अफसरों ने उन्हें समझाकर अंतिम संस्कार कराया। अजय के पिता सुरेशबाबू गुप्ता की तहरीर पर पुलिस ने बेटे-पुत्रवधु व उनके तीन बच्चों को जलाकर हत्या किए जाने का मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा करने के लिए तमाम कोशिशें की। कई संदिग्धों की सीडीआर निकाली गई। जबकि तमाम लोगों के बयान दर्ज किए गए। लेकिन हत्याकांड का खुलासा करने में सफलता नही मिली। हत्याकांड और हादसे के बीच उलझी गुत्थी को सुलझाने को पुलिस ने विधि विज्ञान प्रयोगशाला को सीन रिक्रिएशन करने को रिपोर्ट भेजी। दो महीने से अधिक बीत जाने के बाद भी लखनऊ प्रयोगशाला से इसके लिए कोई तिथि घोषित नहीं की गई। फरीदपुर इंस्पेक्टर रामसेवक ने बताया कि मामले खुलासा करने के लिए सीन रिक्रिएशन कराने का फैसला लिया गया है। विधि विज्ञान प्रयोगशाला ने कोई तिथि नही दी है। इसलिए दोबारा रिमाइंडर भेजा जा रहा है। इसके लिए तारीख तय होते ही पांच लोगों की हत्या के मामले मे सीन रिक्रिएशन की कराया जाएगा।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।