पताका यात्रा से विश्व प्रसिद्ध रामलीला का हुआ शुभारम्भ

बरेली। वर्ल्ड हेरिटेज लिस्ट में शामिल विश्व धरोहर बरेली के बड़ी बमनपुरी क्षेत्र में होली के अवसर पर होने वाली 164 वीं फाल्गुनी रामलीला सोमवार को पताका यात्रा के साथ शुरू हो गई। पताका यात्रा आज श्री नरसिंह मन्दिर से विधिवत पूजन के बाद निकाली गई।
जहां नरसिंह मंदिर में सर्वप्रथम श्री गणेशजी एवं श्री हनुमानजी का पूजन कर व भगवान श्री नरसिंह जी का आशीर्वाद ले कर शुभारंभ किया गया। पूजन रामलीला कमेटी अध्यक्ष सभासद/उप सभापति नगर निगम सर्वेश रस्तोगी एवं मुख्य अतिथि उद्यमी किशोर कटरू द्वारा पंडित केशरी नंदन कौशिक ने संपन्न कराया।

इसके बाद निकली पताका यात्रा में सैकड़ों राम भक्त शामिल हुए। यात्रा बमनपुरी, मलूकपुर चौराहा, सौदागरान, सीता राम कूँचा, बड़े बाजार, गढ़ईया, छोटी ब्रह्मपुरी से होती हुई वापस मूँछों वाले हनुमानजी मंदिर पर आकर समापन हुई। यात्रा में शामिल प्रवक्ता विशाल मेहरोत्रा ने बताया कि यहां पताका को मंदिर के प्रांगण में लगे पीपल के वृक्ष पर बांधकर विधिवत रामलीला की शुरुआत करने की अनुमति भगवान से ली जाती है, अब कल शाम से रामलीला के प्रथम दिन की लीला का मंचन होगा।

यात्रा में शामिल रहे राम भक्त

यात्रा में संरक्षक अनुपम कपूर, किशोर कटरू, अभिनव कटरू, अध्यक्ष सर्वेश रस्तोगी, उपाध्यक्ष विशाल मेहरोत्रा, युवा अध्यक्ष गौरव सक्सेना, नवीन शर्मा, देश दीपक शर्मा, पंकज मिश्रा, महामंत्री अंशु सक्सेना, विवेक शर्मा, नीरज रस्तोगी, अनमोल रस्तोगी, पंडित सुरेश कटिहा, पंडित विनोद शर्मा, पार्षद संजीव रस्तोगी मुक्की, पार्षद गरिमा अग्रवाल, विजय कमांडो, पूर्व पार्षद राजू मिश्रा, राज कुमार गुप्ता, जीतू देवनानी, हरजीत सिंह लाली, अमित भारद्वाज, जनार्दन आचार्य, अनुराग भूषण, विनोद रस्तोगी, दिनेश दद्दा, ठाकुर प्रदीप सिंह, पंकज सक्सेना, दिनेश चंद्र कटिहा, दीपक सामवेदी, कौशिक टण्डन, सचिन श्याम भारतीय, सत्यम गुप्ता, अखिलेश अग्रवाल, अशोक गुप्ता, प्रदीप रस्तोग, महेश पंडित, सत्येंद्र पांडेय, शिव कुमार बरतरिया, लक्ष्य रस्तोगी, शिवम रस्तोगी, शुभम रस्तोगी, निर्भय सक्सेना आदि कई राम भक्त शामिल रहे।

– बरेली से सचिन श्याम भारतीय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।