नरेन्द्र मोदी जी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने के लिए एकजुट व प्रतिबद्व है-कश्यप समाज

कश्यप/निषाद समाज के सर्वागीण विकास व प्रगति के लिए कटिबद्व हॅू-नरेन्द्र कश्यप

बरेली- प्रदेशभर में बडे पैमाने पर बृहद अभियान चलाकर कश्यप/निषाद समाज के लोग पूरी एकजुटता के साथ तीसरी बार जन लोकप्रिय प्रधानमंत्री को आगामी लोकसभा चुनाव में प्रचन्ड बहुमत के साथ पुनः लाना चाहते है। इसका प्रमाण आज जे0पी0जी0 पब्लिक स्कूल, भैरपुर, नैनीताल रोड जनपद बरेली के प्रांगण में उमड़े अपार जन सैलाव के महाकुम्भ में लोगों की उपस्थिति व उनके अपार हर्षोउल्लास को देखते हुए लगता है। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए उपस्थित जन नेताओं ने इस तथ्य पर बल दिया कि वर्तमान सरकार ने अपने कार्यकाल में कश्यप/निषाद समाज के आत्मगौरव व प्राचीन भारतीय संस्कृति के विकास में इनके अविस्मारणीय योगदान को देखते हुये समाज के सर्वागीण विकास के लिए निरन्तर कार्य किया हैं। कश्यप/निषाद संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेन्द्र कश्यप जी ने हजारों जनसमूह के महाकुभ के बीच व्यक्तिगत दृढ़ आश्वासन दिया कि वे समाज के चहमुखी विकास के लिए निरन्तर क्रियाशील है व समाज को विकास की नये क्षितिज तक ले जाने के लिए प्रतिबद्व है।

नरेन्द्र कश्यप जी ने इस तथ्य की ओर इंगित किया कि पूर्व की सरकारों में अभी तक उपेक्षित रहे कश्यप/निषाद समाज को व्यापक प्रतिनिधित्व देने के लिए उ0प्र0 विधायिका के किसी भी सदन का निर्वाचित सदस्य न होने के बावजूद मुख्यमंत्री योगी जी की उ0प्र0 सरकार ने मुझे समाज के सबसे वंचित तबकों पिछड़ो व दिव्यांगजनों के मंत्री पद का स्वतंत्र प्रभार सौपा हैं। नरेन्द्र कश्यप जी ने यह प्रतिबद्वता जताई कि वह अपने दायित्वों का पूरी निष्ठा के साथ निर्वाहन कर रहें है तथा इस वर्ग के विकास हेतु निरन्तर क्रियाशील है।

उत्तर प्रदेश सरकार के स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री नरेन्द्र कश्यप ने यह वताया कि जनता के बीच लगातार प्रशंसनीय कार्य किये जाने के कारण आगामी लोकसभा चुनाव-2024 में माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में तीसरी बार भी जनता भाजपा सरकार को प्रचण्ड बहुमत से वापस लायेगी।

देशभर में प्रधानमंत्री मोदी जी व प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी जी की सरकार ने जनविकास के नित-नये कार्यक्रमों के साथ कश्यप/निषाद समाज की इतिहासिक सास्कृतिक धरोहरों को सजोने एवं सवारने का कार्य किया है, जैसे उ0प्र0 के जनपद प्रयागराज के श्रगंवेरपुर नामक स्थान पर गंगा नदी के पवित्र तट पर मर्यादा पुरूषोत्म भगवान राम व उनके अनन्य सहयोगी निषादराज की रू0 500 करोड़ की लागत से भव्य प्रतिमा स्थापित की है। इस तरह जनपद गाजियावाद में सृष्टि के आदिपुरूष महामुनि भगवान कश्यप की भव्य प्रतिमा स्थापित की गयी है, जो दर्शाता है कि उपेक्षित समाज के ऐतिहासिक सांस्कृतिक महापुरूषों का सम्मान वर्तमान सरकार में ही सम्भव है। सरकार ने निर्धन जनता के इलाज के लिए करोड़ों आयुष्मान कार्ड जारी किये है जिससे उन्हें उच्च स्तरीय चिकित्सीय सुविधाओं का लाभ मिल सकें। जिला अस्पतालों को नई-नई चिकित्सीय सुविधाओं से युक्त किया गया हैं व उनकी आधारभूत संरचना के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी गयी है। 220 करोड़ लोगों को वैक्सीनेशन से आच्छादित किया गया है तथा गरीब जनता को बैंकिग सुविधायें देने के लिए 48 करोड़ जनधन खातों को खुलवाया गया है। बहनों को स्वच्छ ईंधन देने के लिए 10 करोड़ उज्जवला कनेक्शन दिये गये है। इसके अलाबा गरीब जनता के लिए करोड़ों की संख्या में पूरे देश में प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत आवास प्रदान किये गये है। प्रदेश में भी मा0 मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत गरीब निर्धनों को आवास दिये जा रहे है। उ0प्र0 की जनता कानून व्यवस्था की उत्तम स्थिति के कारण भयमुक्त वातावरण में अपना जीवन जी रही है। साम्प्रदायिक ताकतें हाशिये पर है एवं कुख्यात अपराधियों व भूमाफियाओं के खिलाफ सरकार का न्याय रूपी बुलडोजर निरन्तर क्रियाशील है।
नरेन्द्र कश्यप मंत्री पिछड़ा वर्ग/दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग ने उपस्थित जनसमूह को विभाग द्वारा चलायी गयी दिव्यांग पेंशन एवं पिछड़ा वर्ग छात्रवृत्ति तथा कम्प्यूटर प्रशिक्षण से जुड़ें कार्यक्रमों की भी जानकारी दी व उपस्थित जनसमूह को आश्वस्त किया कि किसी भी कल्याणकारी योजना से कोई भी व्यक्ति/समूह वंचित नहीं रहेगा। सरकार जन कल्याणकारी योजनाओं को पूरी निष्ठा से लागू करने के प्रति प्रतिबद्व हैं।
कश्यप/निषाद संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेन्द्र कश्यप जी ने हजारों जनसमूह के महाकुभ के बीच व्यक्तिगत दृढ़ आश्वासन दिया कि वे समाज के चहमुखी विकास के लिए निरन्तर क्रियाशील है व समाज को विकास की नये क्षितिज तक ले जाने के लिए प्रतिबद्व है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।