नयागांव बाजार में एक साथ तीन दुकानों में चोरों ने की चोरी

बिहार- सारण (छपरा) जिले के नयागांव थाना क्षेत्र के नयागांव बाजार स्थित शिवमंदिर के पास गुरुवार की रात को अज्ञात चोरों ने एक साथ तीन दुकान के छत के ऊपर का करकट हटाकर । पचास हजार रुपये मूल्य की संपत्ति एवं हजारों रुपये नगद चोरी कर ली।शुक्रवार को सुबह कुछ लोगों की नजर सिमरन मोबाईल दुकान के ऊपर पड़ी जहाँ से करकट हटाया गया था स्थानीय दुकानदारों द्वारा इसकी सूचना दुकान मालिक को दिया गया आनन फानन में दुकान मालिक ने अपना दुकान खोलकर देखा तो अंदर में समान बिखरे पड़े थे और दुकान के ऊपर से करकट हटा कर चोरों ने दुकान में चोरी किया है बगल में सटे सुनील ज्वेलर्स तथा चन्दन ज्वेलर्स ने भी अपना अपना दुकान खोलकर देखा तो उस दोनो दुकान का भी उपर से करकर हटाकर चोरी की गई है।चोरी की इस घटना की जानकारी नयागांव थानाध्यक्ष को दूरभाष पर दी गई।सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष सरोज कुमार ने पुलिसकर्मियों के साथ घटना स्थल पर जांच पड़ताल की और उचित कार्रवाई का करने का भरोसा दिलाया।इस दरम्यान पुलिस ने पूछताछ करने के लिए दो लड्डू कारोबारी नयमन यादव तथा बौधि यादव को थाना पर लाकर पूछताछ करने के बाद दोनों को छोड़ दिया गया।ततपश्चात सिमरन मोबाईल दुकान के मालिक रणधीर कुमार साह ने अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी की इस घटना के एक लिखित आवेदन थानाध्यक्ष सरोज कुमार को दिया जिसमें कहा गया है कि मेरे दुकान से एक एच सी एल कम्पनी का लैपटॉप, कार्बन के चार सेट मोबाईल, फूजी कम्पनी का डिजिटल फोटो कैमरा और 20 पीस मेमोरी कार्ड चोरी हुआ है।वही सुनील ज्वेलर्स के गला से सतरह सौ रुपया चोरी किया है चोरों द्वारा दुकान में रखा तिजोरी को भी तोड़ने की नाकाम कोशिश की गई है। चन्दन ज्वेलर्स के दुकान से हजारो रुपये मूल्य के चार पीस पीतल के बड़ा तसला तथा आठ पीस फुल्हा का लोटा चोरी हुआ है।
थाना अध्यक्ष ने बताया कि शुक्रवार की सुबह सूचना मिली कि नयागांव बाज़ार में तीन दुकान में चोरी की घटना घटी है। जांच और आवश्यक सत्यापन हेतु घटना स्थल पर पहुंच कर जांच पड़ताल की गई। जहां तीन दुकान में चिरई की घटना सत्य पाया गया। अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। चारों को पकड़ने के लिए कार्रवाई की जा रही है।
-नसीम रब्बानी, पटना /बिहार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।