नगर निगम की बुलडोजर कार्रवाई के डर से खुद हटाने लगे अतिक्रमण

बरेली। रविवार को बरेली कॉलेज गेट के बाहर वेंडिंग जोन मे नगर निगम की कार्रवाई का डर से आवंटियों ने खुद ही अपने सामान की सुरक्षा के लिए लगाए गए प्लाई और लोहे की चादरों को हटवाना शुरू कर दिया। आपको बता दें कि शासन के आदेश के तहत दो साल पहले तत्कालीन नगर आयुक्त अभिषेक आनंद ने विकास भवन रोड पर बरेली कॉलेज गेट के बाहर स्ट्रीट फूड हब बनाने के लिए वेंडिंग जोन बसाया था और जोरशोर से 34 शहरी पथ विक्रेताओं को रोजगार के लिए जगह का आवंटन किया था। इसके अलावा नगर निगम की ओर से आवंटियों को बाकायदा आईकार्ड भी जारी किए गए थे और टीन शेड भी लगवाई थी। जिसके नीचे लाभार्थियों को अपना कारोबार करना था लेकिन पथ विक्रेताओं ने सामान चोरी के डर से अपनी आवंटित जगह को प्लाई और लोहे की चादर से बंद कर लिया। साथ ही खाद्य विभाग से अनापत्ति प्रमाण पत्र लेने के बाद इन लोगों ने जूस, चाऊमीन, छोले भटूरे, चाय आदि के स्टॉल लगे हुए है। वही आवंटित जगह पर लाभार्थियों की ओर से किए गए पार्टीशन की जानकारी मिलने पर नगर निगम ने इसे अतिक्रमण बताते हुए हटाने का अल्टीमेटम दे दिया।साथ ही तय समय मे अतिक्रमण न हटाने पर तोड़ने की चेतावनी दी। जिसको लेकर बड़ी संख्या में पथ विक्रेता शनिवार को नगर आयुक्त से मिलने उनके कार्यालय पहुंचे। आरोप है कि नगर आयुक्त ने उनकी एक नही सुनी और इतना कहकर लौटा दिया कि अवैध दुकानों और अतिक्रमण को खुद हटाने के लिए रविवार तक की मोहलत है। इसके बाद नगर निगम की टीम कार्रवाई करेगी। बुलडोजर की कार्रवाई के डर से पथ विक्रेताओं ने खुद ही पार्टीशन के लिए लगाए प्लाई और लोहे की चादर हटाने शुरू कर दिए। लाभार्थी जगदीश, सलीम, ब्रज मोहन और गोवर्धन का कहना है कि उनका कई बार सामान चोरी हो गया, जिसके चलते उन्होंने पार्टीशन कर लिया था। लेकिन अब नगर निगम की आपत्ति के बाद वो खुद ही इसे हटवा रहे है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।