धर्म परिवर्तन को तैयार प्रेमिका बोली- घर भेजने पर हो सकती है उसकी हत्या, उम्र मे छोटा निकला प्रेमी

बरेली। जनपद के थाना भोजीपुरा क्षेत्र का प्रेमी युगल कम उम्र की बजह से एक-दूसरे का विवाह होते-होते रह गया। धर्म परिवर्तन और विवाह की प्रक्रिया से पहले ही दूल्हे की उम्र विवाह मानक से कम देखकर महंत ने शादी कराने से इनकार कर दिया। पुलिस ने युवती को परिजनों के हवाले कर दिया। युवती ने साफ कहा कि घर भेजने पर उसकी हत्या हो सकती है लेकिन उसकी एक न चली। आपको बता दे कि थाना भोजीपुरा क्षेत्र के एक गांव निवासी युवक गांव की ही दूसरे धर्म की युवती को लेकर अगस्त्य मुनि आश्रम पहुंचा। दोनों ने शादी की इच्छा जताई। महंत ने दोनों के बालिग होने के प्रमाणपत्र मांगे और कहा कि कानूनी रूप से आयु संबंधित प्रमाणपत्र सही पाए जाने पर शादी करा सकते है। युवती ने युवक का धर्म अपनाने के लिए स्वीकृति भी दे दी। मंगलवार को दस्तावेज के अनुसार युवती की आयु 22 वर्ष निकली। वही युवक की आयु 20 वर्ष (विवाह की आयु 21 वर्ष से एक साल कम) होने पर महंत ने शादी कराने से मना कर दिया। इधर, युवती किसी सूरत में अपने घर जाने को तैयार नही हो रही थी। उसने वीडियो बनाकर कहा कि उसे अपने घरवालों से जान का खतरा है। कहा कि घरवाले उसे जान से मार देंगे। उसने महंत को धर्म पिता मानते हुए जान बचाने व न्याय दिलाने की गुहार की। कहा कि चाहें तो वही उसे बेटी की तरह साथ रख ले। महंत ने इसकी सूचना युवती के घरवालों और पुलिस को दी। युवती के घरवालों ने आकर उसे समझाया पर वह नही मानी। बाद में प्रधान के साथ आई थाना भोजीपुरा पुलिस युवती को साथ ले गई। महंत ने सीओ हाईवे से अनुरोध किया कि युवती के बयान लेकर उसकी इच्छा के मुताबिक ही कही भेजा जाए। हालांकि थाना पुलिस ने युवती को घरवालों के हवाले कर दिया। दरोगा अजीत सिंह ने बताया कि युवती के बारे मे गुमशुदगी दर्ज थी। उसे उसके घरवालों को सौंप दिया गया। महंत का कहना था कि युवती के साथ अनहोनी की आशंका है।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।