तिरंगा रैली निकाल शिक्षामित्रो ने स्थाई किए जाने को सांसदों को सौपे मांगपत्र

बरेली। उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के प्रांतीय आवाहन पर शिक्षामित्रों की विभिन्न समस्याओं को लेकर संगठन के जिलाध्यक्ष कपिल यादव के नेतृत्व मे रविवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद बरेली संतोष गंगवार और सांसद आंवला धर्मेंद्र कश्यप को प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा। शिक्षामित्रों ने ज्ञापन के माध्यम से अनुरोध किया कि नियमावली मे संशोधन कर शिक्षामित्रों को योग्यता पूर्ण करा समायोजित किया जाए। नई शिक्षा नीति में शिक्षा मित्रों का भविष्य सुरक्षित किया जाए। मृतक शिक्षामित्रों को आर्थिक सहायता और परिवार के आश्रितों को नियुक्ति देने की मांग उठाई। टेट पास शिक्षामित्रों को एक बार फिर मूल विद्यालय में भेजकर नियमित किया जाए। महिला शिक्षा मित्रों को विवाह के बाद ससुराल में स्थानांतरित किया जाए। महामंत्री कुमुद केशव पांडे ने कहा कि लंबे समय से शिक्षामित्र मांगों को लेकर संघर्ष कर रहे है। अब सरकार शिक्षामित्रो का स्थाई समाधान करे। इस दौरान शिक्षामित्रो ने बाइको पर तिरंगा बांधकर रैली निकालते हुए पहले भारत सेवा ट्रस्ट पर पूर्व केंद्रीय मंत्री व सांसद बरेली संतोष गंगवार को ज्ञापन सौंपा। वही से बाइको से रैली करते हुए कांधरपुर स्थित सांसद आंवला धर्मेंद्र कश्यप के आवास पहुंचकर ज्ञापन सौंपा। इस दौरान शिक्षामित्र ने मोदी योगी के जिंदाबाद के नारे भी लगाए। सांसदो ने आश्वासन दिया कि उनकी बात केंद्र व प्रदेश सरकार तक पहुंचाई जाएगी। इस अवसर पर जिलाध्यक्ष कपिल यादव, महामंत्री कुमुद केशव पांडे, अचल सक्सेना, राजेश गंगवार, अरविंद गंगवार, कुंवरसेन गंगवार, सुरेंद्र पाल वर्मा, भगवान सिंह यादव, धर्मेंद्र पटेल, सतीश चंद्र गंगवार, विजय सिंह, नरेंद्र सिंह, कप्तान सिंह, जसवीर यादव, संजू कटियार, दीपमाला आर्य, जमुनावती, हेत सिंह यादव, हरीश, चरन सिंह, रचना सक्सेना, रामकली, सत्यम गंगवार, पुष्पा देवी, प्रेमवती, दौलतराम, राजीव उपाध्याय, नारायन दास, मुंशीलाल, गंगाधर, कुंवरसेन, अमित कुमार सहित सैकड़ो शिक्षामित्र शामिल रहे।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।