डॉ महिला चिकित्सक और प्रभारी सीएमएस मे रार, हाजिरी रजिस्टर से काटा नाम

बरेली। तीन सौ बेड अस्पताल मे महिला चिकित्सक और प्रभारी सीएमएस के बीच विवाद थमने का नाम नही ले रहा है। बुधवार को प्रभारी सीएमएस ने महिला चिकित्सक के कक्ष में ताला डलवा दिया। हाजिरी रजिस्टर से उनका नाम काट दिया। दरअसल, महिला चिकित्सक को रिलीव कर दिया गया है मगर उन्होंने रिलिविंग लेटर पर हस्ताक्षर नही किए हैं। इसलिए दोनों के बीच रार बढ़ गई है। एक अप्रैल को प्रभारी सीएमएस ने डा. हरमीत पुरी को अस्पताल से रिलीव कर उनकी मूल तैनाती पर भेजा है, लेकिन मंगलवार को वह अस्पताल आ गईं। बुधवार को डॉ. हरमीत अपने कक्ष में नहीं थी। यह देखकर प्रभारी सीएमएस ने कर्मचारी को भेजकर उनके कमरे में ताला डलवा दिया। उन्होंने हाजिरी रजिस्टर मंगाकर डॉक्टर नाम भी काट दिया। वहीं, इसकी सूचना सीएमओ को भेज दी। प्रभारी सीएमएस और डॉ. हरमीत पुरी के बीच विवाद का यह कोई पहला मामला नहीं है, इससे पहले भी समय पर ड्यूटी पर न आने पर दोनों के बीच तकरार हो चुकी है। निजी मेडिकल कॉलेज से जिला अस्पताल प्रशिक्षण लेने आए पीजी के प्रशिक्षु डॉ बुधवार को त्वचा रोगियों का ओपीडी में परामर्श दे रहे थे। इसी बीच डॉ. सतीश अचानक उनके कक्ष मे आए और उन्हें बाहर जाने को कहते हुए अनुमति पत्र मांगा। जिस पर प्रशिक्षुओं ने तुरंत इसकी सूचना जिला अस्पताल की एडीएसआईसी डॉ. अलका शर्मा ने दी। इस पर एडीएसआईसी ने डॉ. सतीश चंद्रा से गहरी नाराजगी जताते हुए उन्हें कार्य करने का आदेश दिया। इस पर डॉ. सतीश ने उन्हें कक्ष में ओपीडी करने को कहा।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।