डीएम ने जिला अस्पताल मे मारा छापा, सफाई एजेंसी को नोटिस, मची खलबली, निरीक्षण के बाद भी नही सुधरे हालात

बरेली। सोमवार को जिला अस्पताल मे अन्य दिनों की तुलना में मरीजों की संख्या सबसे अधिक रहती है लेकिन सुबह 9:30 बजे ओपीडी मे खलबली मच गई जब डीएम रविंद्र कुमार ओपीडी में निरीक्षण के लिए अचानक पहुंच गए और निरीक्षण किया। परिसर मे गंदगी मिलने पर सफाई एजेंसी को नोटिस और मलेरिया वार्ड की व्यवस्थायें दुरूस्त करने के निर्देश दिये। वही मरीजों से भी व्यवस्थाओं का हाल जाना। इसके बाद डीएम इमरजेंसी पहुंच गए हालांकि यहां इमो मौजूद मिले। उन्होंने मरीज को त्वरित और बेहतर संबंधी दिशा निर्देश भी जारी किया। डीएम ने मलेरिया के मामलो मे त्वरित कार्यवाही करने और जांच करने के भी निर्देश दिए। इसके साथ ही मलेरिया वार्ड को अस्पताल के एंट्री प्वाइंट के आस पास बनाने तथा मलेरिया जांच कक्ष को साइनेज के माध्यम से इंगित किये जाने के निर्देश दिए जिससे मरीजों को किसी प्रकार की असुविधा ना हो। अक्सर देखा जाता मरीज और तीमारदार मलेरिया वार्ड को खोजने के लिए परेशान रहते है। सूत्रों के अनुसार जिला अस्पताल में लगातार ओपीडी और इमरजेंसी में डॉक्टरों की लापरवाही की शिकायतें डीएम कार्यालय तक पहुंच रही थी। जिस पर डीएम ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ विश्राम सिंह सहित अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे। वही निरीक्षण कर डीएम रविंद्र कुमार के जाते ही जिला अस्पताल में व्यवस्थाएं फिर पुराने ढर्रे पर आ गई। डीएम की मौजूदगी तक डॉक्टर सक्रिय दिखे। उनके जाने के बाद अव्यवस्थाएं फैल गई। पर्चा बनवाने से लेकर ओपीडी में इलाज के लिए मरीजों को घंटों इंतजार करना पड़ा। कई कक्षों से डॉक्टर नदारद दिखे। सोमवार को 1376 मरीज इलाज के पहुंचे। सबसे अधिक मरीज वायरल बुखार और डायरिया के लक्षण वाले सामने आए।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।