जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कर करेत्तर के संबंध में बैठक सम्पन्न, राजस्व कार्यो की भी हुई समीक्षा

हमीरपुर – कर करेत्तर एवं राजस्व कार्यो की मासिक समीक्षा बैठक जिलाधिकारी डॉ चंद्र भूषण की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित डॉ एपीजे अब्दुल कलाम सभागार कक्ष में संपन्न हुई ।
बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि वाणिज्य कर विभाग द्वारा कैंप लगाकर व्यापारियों का जीएसटी में पंजीयन कराया जाए तथा पंजीयन के प्रति जन जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जाएं। उन्होंने वाणिज्य कर विभाग की लक्ष्य के सापेक्ष कम वसूली पर सुधार करने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि खनन गतिविधियां प्रारंभ हो रही हैं इसके दृष्टिगत खनन गतिविधियों पर नजर रखी जाए तथा राजस्व,खनन ,पुलिस आदि विभागों द्वारा संयुक्त रूप से अभियान चलाया जाए । उन्होंने कहा कि सभी सरकारी विभागों द्वारा अपने विद्युत बकाया नियमित रूप से जमा करें,इसमे कोई लापरवाही न बरती जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि नगरीय निकायो / नगर पालिका व नगर पंचायतों द्वारा आमदनी बढ़ाने हेतु प्रभावी प्रयास किए जाएं । नियमित रूप से समीक्षा कर राजस्व प्राप्ति में सुधार किया जाए ।
कहा कि एआरएम रोडवेज द्वारा बसों की नियमित रूप से जांच की जाए तथा बसों में समय समय पर टिकट आदि चेक किये जाएं। उन्होंने कहा कि रोडवेज बस स्टैंड के आसपास प्राइवेट टैक्सी / बस आदि द्वारा सवारी भरने, उतारने आदि का कार्य किसी भी दशा में ना हो ,इसके लिए अभियान चलाकर प्रवर्तनीय कार्य किए जाएं ।
जिलाधिकारी ने कहा कि कर करेत्तर से संबंधित सभी विभागों द्वारा प्रवर्तन कार्यों को बढ़ाया जाए तथा वित्तीय वर्ष 2022-23 के अंतर्गत वसूली का जो लक्ष्य प्राप्त हुआ है उसको समयबद्ध ढंग से पूर्ण किया जाए । इस मौके पर जिलाधिकारी ने वाणिज्य कर विभाग, नगर पालिका / नगर पंचायतों , मंडी समिति, आबकारी विभाग, खनिज विभाग , विद्युत विभाग ,वन विभाग, रोडवेज विभाग की लक्ष्य एवं वसूली सहित विविध देयो की वसूली की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को वसूली लक्ष्य को समयबद्ध ढंग से प्राप्त करने के संबंध में निर्देश दिए । कहा कि बकाया जमा न करने वालों की नियमानुसार आरसी जारी कर वसूली का कार्य किया जाए । उन्होंने कहा कि आबकारी विभाग द्वारा अवैध शराब पर प्रवर्तनीय कार्यवाही की जाए, कहीं पर भी शराब की ओवररेटिंग ना होने पाए ,यह प्रत्येक दशा में सुनिश्चित किया जाए । परिवहन विभाग द्वारा ओवरलोड वाहनों पर नियमित रूप से कार्रवाई की जाए।
राजस्व कार्यों की समीक्षा में जिलाधिकारी ने कहा कि मा0 कोर्ट एवं विभिन्न आयोगो के पेंडिंग कार्य शीघ्र निस्तारित किए जाएं । उन्होंने कहा कि खतौनी ,खसरा ,वरासत ,अमल दरामद के पेंडिंग कार्यों को समयबद्ध ढंग से निस्तारित करें तथा सभी वरासत समय से दर्ज हो । एंटी भू माफिया अभियान के अंतर्गत भी कार्रवाई की जाए। कहा कि सभी अमीनो के वसूली के कार्यों की नियमित रूप से समीक्षा की जाए।जिलाधिकारी ने कहा कि आय ,जाति ,निवास संबंधी प्रमाण पत्रों को समयबद्ध ढंग से बनाया जाए तथा आईजीआरएस ,मुख्यमंत्री हेल्पलाइन संदर्भ का नियमित रूप से मॉनिटरिंग की जाए, इनके अंतर्गत प्राप्त होने वाली शिकायतों को गुणवत्तापूर्ण ढंग से निस्तारण किया जाए, शिकायतों के निस्तारण के पश्चात लाभार्थियों से फीडबैक भी लिया जाए , किसी भी दशा में शिकायत डिफाल्टर संदर्भ की श्रेणी में ना आने पाए । इस मौके पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रमेश चंद्र ,अपर जिलाधिकारी न्यायिक डॉ नागेंद्र नाथ यादव ,अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे राजेश कुमार यादव , डीएफओ यू सी राय,एसडीएम हमीरपुर रवींद्र सिंह , एसडीएम सरीला खालिद अंजुम , एसडीएम मौदहा व राठ , समस्त तहसीलदार , उपायुक्त वाणिज्यकर जयसेन ,एआरटीओ, आबकारी अधिकारी, समस्त ईओ नगर पालिका/ नगर पंचायत तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।