चचेरे भाई का हत्यारा गिरफ्तार: पखवाड़े भर से फरार अभियुक्त के पीछे दौड़ रही थी पुलिस

सोनभद्र- बीजपुर थाना क्षेत्र के इंजानी गाँव में 26 अप्रैल को कुल्हाड़ी से गर्दन काट कर दिन दहाड़े चचेरे भाई का हत्या करने वाला मुख्य आरोपी बाबुराम अगरिया को मुखबिर की सुचना पर गुरूवार की सायँ उसके घर से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
पूछताछ में हत्यारोपी के निशान देही पर समीप के झाड़ी से हत्या में प्रयुक्त कुल्हाड़ी भी बरामद कर पुलिस ने न्यायालय में प्रस्तुत किया जहाँ से उसे जिला जेल भेज दिया गया। बताते चले कि इसी मामले में सह अभियुक्त सुरेश, रमेश, पुत्रगण सोन अगरिया,सूबे लाल पुत्र सुखलाल को पुलिस ने 30 अप्रैल को ही धारा 302, व 120 बी के तहत गिरफ्तार कर जेल भेजने की करवाई कर चुकी है। एक पखवाड़े से फरार मुख्य हत्या रोपी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस लगातार दबिश और छापे मारी कर रही थी अभियुक्त की तलाश में बीजपुर पुलिस छत्तीसगढ़ सहित तमाम स्थानों पर दबिश देती रही लेकिन पुलिस को पखवाड़े भर से चकमा दे रहा मुख्य अभियुक्त अंततः पुलिस के विछाये जाल मे फस गया पुलिस को मिली बड़ी कामयाबी पर क्षेत्र में चर्चा का माहौल है शुक्रवार की सुबह प्रभारी निरीक्षक एस पी सिंह ने पत्रकार वार्ता में मामले का खुलासा करते हुए बताया कि चचेरे भाई की हत्या का मुख्य आरोपी बाबुराम अगरिया पुत्र हीराशाह अगरिया निवासी इंजानी को बजरिये मिली मुखबिर की सुचना पर उसके घर से गिरफ्तार कर लिया गया है अभियुक्त से पूछ ताछ में बाबुराम ने हत्या के पीछे आसनाई का मामला बताते हुए कहा की उसके पहली पत्नी और दूसरी पत्नी से मृतक बीरबल से आसनाई का चक्कर चल रहा था जिसका मुझे शक हुआ और पूछताछ के लिए उसे घटना वाले दिन बुलाया बातचीत के दौरान गुस्से में आकर पास पड़ी कुल्हाड़ी से गर्दन पर वार कर मौत के घाट उतार दिया था।गिरफ्तार अभियुक्त को आई पी सी की धारा 302, 120 बी के तहत करवाई कर शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया जहाँ से उसे जेल भेज दिया गया। प्रभारी निरीक्षक ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान बताया कि हत्या के मुख्य आरोपी पर गुंडा एक्ट की भी करवाई की गयी है। गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम में उप निरीक्षक लल्लन खरवार, गोवर्धन यादव, का. अभिषेक सिंह, अक्षय यादव, हरिओम यादव शामिल रहे।
रिपोर्टर-:सर्वदानन्द तिवारी सोनभद्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।