ग्रामीण अंचल में पत्रकारिता की दिशा और दिशा पर संपन्न हुई गोष्ठी

बिजनौर/झालू – वास्तव में आज पत्रकारिता की दिशा और दशा दोनों सही हैं लेकिन स्थितियां विषम परिस्थिति से गुजर रही हैं ।यह खेद का विषय है ।यह विचार जिला हमीरपुर के ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के प्रदेशीय वरिष्ठ महामंत्री देवी प्रसाद गुप्ता ने आज गोल्डन पैलेस झालू में आयोजित एसोसिएशन के संस्थापक स्वर्गीय श्री बाबू बालेश्वर लाल जी की 31 वीं पुण्यतिथि एवं हिंदी पत्रकारिता दिवस के मौके पर आयोजित ग्रामीण अंचल में पत्रकारिता की दशा और दिशा विषय पर गोष्ठी में पंडाल में मौजूद सैकड़ों पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहे। उन्होंने कहा आपातकाल के दौरान कलम के सच्चे सिपाही आपातकाल के दौरान भी बिना किसी डर के अपनी कलम चलाते रहे जिसके फलस्वरुप 18 माह बाद सरकार को आपातकाल वापस लेना पड़ा उन्होंने आगे कहा कि वास्तव में ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन हमेशा पत्रकारों की हितों की उनके दुख दर्द में शामिल रहकर लड़ाई लड़ती रही है ।उन्होंने पत्रकारों से निर्भय होकर पत्रकारिता करने और समाज व देश को आगे बढ़ाने में अपनी निष्पक्ष कलम चलाने को कहा उन्होंने कहा कि कौन मित्र बनेगा और कौन दुश्मन यह सोचे बिना कैसे लिखें पत्रकार को निर्भीक निष्पक्ष और निडर होना चाहिए ।जीवन मरण सब ईश्वर के हाथ है बिना ईश्वर की इच्छा के उसे कोई मार नहीं सकता उन्होंने दावे से कहा कि आज के दौर में यदि सच्चा पत्रकार है और ग्रामीण अंचल का पत्रकार है वह कष्ट भरी पत्रकारिता करके समाज को दिशा और दर्शन देने का कार्य करता है। ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण द्विवेदी ने विशिष्ट अतिथि बोलते हुए कहा कि वास्तव में यदि पत्रकारों का मजबूत संगठन है। तो ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन है उन्होंने पत्रकारों से सजग रहकर समाज के सर्जन में पत्रकारिता करने का जोरदार आह्वान किया जबकि पत्रकार संजीव सुदर्शन ने पीत पत्रकारिता त्याग कर सच्चाई के मार्ग पर चलने और मिशनरी पत्रकारिता करने पर बल दिया। ग्रामीण पत्रकार के जिला अध्यक्ष डॉक्टर भानु प्रकाश वर्मा ने कहा कि आजादी से पहले पत्रकारों का एक लक्ष्य था देश और समाज को मजबूत बनाना और देश की आजादी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाना उस समय पत्रकारों ने कठिन परिस्थितियों में लक्ष्य प्राप्त किया। उन्होंने स्वर्गीय बाबू बालेश्वर लाल जी की व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर विस्तृत पर प्रकाश डाला।
विशिष्ट अतिथि के रूप में सांध्य दैनिक पब्लिक इमोशन के प्रधान संपादक एवं वरिष्ठ पत्रकार डॉक्टर पंकज भारद्वाज बिजनौर ने कहा कि वर्तमान सरकार किसानों तथा क्षेत्रीय एवं मझोले समाचार पत्रों का उत्पीड़न कर रही है उन्होंने कहा कि सरकार की नीति के कारण आज छोटे मझोले एवं क्षेत्रीय समाचार पत्र बंद होने की कगार पर हैं। आज समाज का दायित्व है कि ऐसे अखबारों को जीवित रखने का प्रयास करें। कार्यक्रम में श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के जिला महामंत्री अनिल चौधरी , प्रेस क्लब झालू के अध्यक्ष लवलेश चौधरी संयुक्त रूप से कहा के आज यदि पत्रकारिता की आवाज ग्रामीण क्षेत्र के पत्रकार नहीं उठा पाएंगे तो समाज और देश का उत्थान नहीं हो सकेगा। कार्यक्रम में एसोसिएशन के सदस्यों पदाधिकारियों एवं जनपद के कोने-कोने से आए पत्रकारिता क्षेत्र में योगदान देने वाले पत्रकारों को मंच से सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में डॉ पुखराज मलिक ,डॉक्टर आलम फरीदी, विवेक गुप्ता ,एसोसिएशन के वरिष्ठ महामंत्री नरेश भास्कर, मोहम्मद रिजवान, अवनीश शर्मा, राहुल चौधरी, विकास अग्रवाल ,शेख मोहम्मद आदिल ,नदीम अहमद आजाद, हम्मद ,सलीम, अमित बंसल ,देवेंद्र सिंह ,नरेश फौजी, दिनेश द्विवेदी ,आलोक कुमार, संजीव सुदर्शन ,महेंद्र सिंह, अनिल चौधरी, अनुज कुमार, डॉ जीसी राय बंगाली ,सलीम आब्दी ,कामेंद्र राणा ,मूलचंद चौधरी ,फिरोज आलम ,सुरेंद्र शर्मा, मोहम्मद शाहिद ,परम सिंह ,मुसब्बर हुसैन प्रेस क्लब झालू के सदस्य सहित तमाम पत्रकारों की मौजूदगी रही कार्यक्रम की अध्यक्षता एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विनोद कुमार शर्मा, चांदपुर एवं सफल और सुफल संचालन संयुक्त रूप से एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष डॉक्टर भानु शर्मा, नरेश भास्कर वरिष्ठ महामंत्री ने किया।
– बिजनौर से दिनेश शर्मा के साथ विकार अंजुम

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।