गोवध करते हिंदूवादी नेता सहित 3 गिरफ्तार,करणी सेना जिलाध्यक्ष के संरक्षण मे हो रहा था गोरखधंधा

बरेली- शुक्रवार देर रात भोजीपुरा पुलिस के देवरनिया नदी पर छापेमारी के बाद गोतस्करों ने पुलिस पर की फायरिंग।3 गिरफ्तार आरोपियों मे एक हिंदू संगठन करणी सेना का महानगर अध्यक्ष शामिल।पुलिस की पूछताछ मे जिलाध्यक्ष ठाकुर राहुल सिंह का नाम सामने आया।

गौमाता की रक्षा के नाम पर देश और प्रदेश की सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के हिमायती हिंदू संगठनों के नेता पैसे के लालच मे गाय माता तक का वध कराने से बाज़ नहीं आ रहे और बदनाम होता है सिर्फ एक धर्म विशेष।दरअसल इन जैसे फर्जी तथाकथित गौरक्षों को गाय माता का कोई दर्द नहीं है,बल्कि एक धर्म विशेष के प्रति व्यक्तिगत कुंठा और पैसों का लालच ही इनकी कथित गोरक्षा है।इस बात को हम यूं ही नहीं कह रहे बल्कि आये दिन गोवध और तस्करी मे इन कथित हिंदू संगठनों के नेताओं की संलिप्तता जगजाहिर होती रही है।गत कुछ माह पहले बहेड़ी के फरीदपुर नगरपंचायत के चेयरमैन के गोकशी मे पकड़े जाने बाद अब बीते शुक्रवार को भोजीपुरा पुलिस ने गौमाता का वध और तस्करी करते हुए हिंदू संगठन करणी सेना के नेता सहित तीन को गिरफ्तार किया है और पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।भोजीपुरा पुलिस ने शुक्रवार देर रात सूचना पर देवरनिया नदी के पास छापेमारी की तो वहां मौजूद गोतस्करों ने पुलिस टीम पर फायरिंग कर दी,पुलिस ने जवाबी फायरिंग मे तीन लोगों को गिरफ्तार किया तो उन्होंने चौकाने वाला खुलासा करते हुए करणी सेना के जिलाध्यक्ष ठाकुर राहुल सिंह का नाम इस गोकशी के पीछे बताया।पकड़े गये तीनों गोतस्करों की पहचान थाना सीबीगंज निवासी सईद अहमद तथा थाना इज्जतनगर निवासी अकरम और करणी सेना के महानगर अध्यक्ष देवेंद्र सिंह के रूप मे हुई।पुलिस की पूछताछ मे तस्करों ने बताया कि थाना सीबीगंज के तिलियापुर का चांद उर्फ अजय वध करके मांस ले जाता है और करणी सेना का जिलाध्यक्ष राहुल सिंह का उन्हें संरक्षण मिला हुआ था।पुलिस ने पांचों आरोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है और 3 को गिरफ्तार कर अन्य दो आरोपियों की तलाश मे जुटी है।वहीं दूसरी तरफ इस मामले मे करणी सेना के प्रदेशाध्यक्ष ने बरेली के जिलाध्यक्ष राहुल सिंह का गोकशी मे नाम आने के बाद उसे बरेली के जिला अध्यक्ष पद से हटा दिया है।

– बरेली से तकी रज़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।