किशोरियों ने गेंद और बल्ले से दिखाया दमखम: किशोरियों के क्रिकेट मैच का फाइनल मुकाबला

*कुरारा बीआरसी मैदान किशोरियों के क्रिकेट मैच का फाइनल मुकाबला
*खेलकूद के बाद किशोरियों को स्वास्थ्य के प्रति दी गई जानकारी
हमीरपुर- किशोरी स्वास्थ्य और शिक्षा के मुद्दे पर काम करने वाली समर्थ फाउंडेशन एवं सहयोग संस्था के बैनर तले कुरारा ब्लाक के बीआरसी कैंपस में किशोरियों के क्रिकेट मैच का फाइनल मुकाबला खेला गया। इस मौके पर मैदान में अच्छी-खासी भीड़ के बीच किशोरियों ने बैट और बॉल से जबरदस्त प्रदर्शन किया। मुकाबले के बाद किशोरियों को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करते हुए आंगनबाड़ी केंद्रों के संपर्क में रहते हुए समय-समय पर स्वास्थ्य की जांच कराने की सलाह दी गई।
फाइनल मुकाबला खरौंज और कुतुबपुर की टीमों के बीच हुआ। खरौंज की टीम की कप्तान उपासना ने टॉस जीतकर पहल बल्लेबाजी की। छह ओवर के निर्धारित मैच में खरौंज ने 24 रन बनाए। जीत का लक्ष्य लेकर खेलने उतरी कुतुबपुर टीम ने बगैर विकेट गंवाए दो ओवर में ही 24 रन बना दिए। कुतुबपुर की कप्तान माधुरी प्रजापति ने जबरदस्त बल्लेबाजी की। बच्चियों की कुर्सी दौड़ में सत्रह किशोरियों ने भाग लिया, जिसमें अंजना खरौंज, उपासना खरौंज, मोहिनी कुतुबपुर विजयी रही। चम्मच रेस में आसमां कुतुबपुर, दिव्या चंदूपुर, मोहिनी खरौंज विजयी हुई।
इस मौके पर बाल विकास परियोजना अधिकारी शशिप्रभा किशोरियों की प्रतिभा की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि किशोरियां अपने स्वास्थ्य को लेकर भी जागरूक रहें। समय-समय पर आंगनबाड़ी केंद्रों में वजन कराएं। रक्तल्पता से बचें। पौष्टिक भोजन खाएं। नियमित व्यायाम करें। स्वस्थ्य शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क का वास होता है, सभी सफलता मिलती है। सुपरवाइजर मीना ठाकुर ने किशोरियों को आंगनबाड़ी से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी दी। ग्राम पंचायत शंकरपुर की प्रधान प्रियंका निषाद ने भी किशोरियों की खेलकूद भावना को सराहा और उन्हें स्वास्थ्य क प्रति जागरूक किया। कन्या प्राथमिक विद्यालय की प्रधानाचार्या सरोज, सहयोग संस्था की संगीता मौर्या, कुलदीप व संजीव ने भी विचार रखे। इस दौरान सामाजिक कुरीति बाल विवाह से संबंधित पोस्टर का विमोचन भी किया गया। विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। समर्थ फाउंडेशन के देवेंद्र गांधी ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस दौरान कुमकुम, पूनम, नीलम, ममता, ज्योति, गोल्डी , अर्चना, सपना, लक्ष्मी, रोशनी, साखी, सचि, एकता, गुड़िया, नंदनी, कोमल, दीपाला,सेलजा, कामिनी, इसरार, आकांक्षा सहित बड़ी संख्या में किशोरियों ने भाग लिया।
लर्निंग एण्ड अवेयरनेस सेंटर से मिली मदद बरुआ गांव की रुचि, कल्पना, खरौंज की साक्षी, अंजली, श्वेता, सोनम, चंदूपुर की शबनम, रजनी, कुतुबपुर की साक्षी, रघवा की सपना, कामिनी, टोडरपुर की रागिनी आदि किशोरियों ने लर्निंग एंड अवेयरनेस सेंटर के बारे में बताते हुए कहा कि उन्हें कोविड के दौरान अपनी पढ़ाई को लेकर चिंता हो रही थी, लेकिन सेंटर से उन्हें मदद मिली। किशोरियों को स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी मिली, तो सामाजिक मुद्दों पर भी जानकारी मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।