कितनी दूरी पर है मतदान केंद्र, बूथ पर कितनी लंबी कतार, बताएगा माय बूथ बरेली एप

बरेली। लोकसभा चुनाव मे मतदाताओं के प्रतिभाग को बढ़ाने हेतु डीएम बरेली रविंद्र कुमार के सतत प्रयास से एक मोबाइल एप्लीकेशन myboothBareilly बनाई गई है। जिसमें मतदाताओं की सुविधा हेतु कई फैसिलिटी दी गई है। बरेली जनपद के लोकसभा क्षेत्र, 24-आंवला, 25-बरेली व 26- पीलीभीत के बहेड़ी क्षेत्र के मतदान बूथ के लोकेशन, बीएलओ के बारे में जानकारी, मतदान की तिथि और मतदान के दिन बूथ पर कतार मे लगे लोगों की संख्या जानी जा सकती है। इस एप्लीकेशन में गूगल मैप की सहायता से बूथ तक पहुंचने का मार्ग दर्शाने की भी सुविधा है। मतदान के दिन किसी भी समय पर लाइन में खड़े मतदाताओं की संख्या भी इस एप्लीकेशन द्वारा पता लग जाएगी। जिससे मतदाता अपनी सुविधा के अनुसार वोट डालने जा सकते हैं और बिना लंबी प्रतीक्षा किए वोट डालकर तुरंत वापस आ सकते है। डीएम ने कहा कि जनपद के अधिकतर क्षेत्रों में मतदान 7 मई को है। जब अन्य वर्षों की तरह इस वर्ष भी मई मे कड़ाके की धूप और काफी गर्मी रहने की संभावना है। वैसे गर्म मौसम में मतदाता विशेषकर शहरी क्षेत्र के मतदाता बूथ पर ज़्यादा समय प्रतीक्षा नही करना चाहते हैं और यही सोचकर वोट डालने नही आते है। अब इस ऐप के माध्यम से मतदाता को यह पता लग जाएगा कि उनके बूथ पर मतदान के दिन उस समय कितने लोग वोट देने के लिए कतार मे खड़े है। जिससे मतदाता अपनी सुविधानुसार उस समय घर से निकलेंगे, जब बूथ पर लंबी कतार खत्म हो जाएगी। कोई अन्य सूचना के लिये या शंका होने पर ऐप मे दिये गये BLO के मोबाइल नंबर पर फोन करके पूछ लेंगे। इससे मतदान में अवश्य ही मतदाता का प्रतिभाग बढ़ेगा। जनपद के समस्त 3492 बूथ के विधानसभा वार विवरण जैसे बूथ संख्या और नाम, बूथ का अक्षांश-देशांतर मे लोकेशन, बूथ के बीएलओ के नाम और मोबाइल नंबर आदि फीड किए गए है। जिससे मतदाताओं को सही जानकारी मिल सके। कृपया गूगल प्ले स्टोर से myboothbareilly मोबाइल ऐप को डाउनलोड करने के लिए नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करें :- https://play.google.com/store/apps/details?id=in.mybooth.bareillyCity
अगर आपको इस ऐप के प्रयोग का तरीका जानना है तो इस YouTube लिंक पर क्लिक करें :-
https://youtu.be/1C8kJbnyMd8

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।