कहासुनी पर दबंग अध्यापक ने शिक्षामित्र को मारा थप्पड़, की मारपीट

रिछा, बरेली। स्कूल को शिक्षा का मंदिर कहा जाता है, इसमे पढने वाले नौनिहालों को भावी पीढ़ी की नींव कहा जाता है। जनपद के दमखोदा ब्लॉक के प्राइमरी स्कूल मे बच्चों के सामने कहासुनी पर अध्यापक ने शिक्षामित्र को थप्पड़ जड़ दिए और दोनों मे मारपीट हुई। सूचना पर मौके पर पुलिस भी पहुंची। यह सब देखकर बच्चे सहमे रहे। बीईओ ने मामले की रिपोर्ट तलब की है। मिली जानकारी के अनुसार जनपद के दमखोदा का प्राइमरी स्कूल ब्लाक मुख्यालय से सटा हुआ है। यहां पर प्रधानाध्यापिका समेत तीन अध्यापक और तीन शिक्षामित्र तैनात है। गुरुवार को यहां तैनात सहायक अध्यापक आजाद सिंह और शिक्षामित्र गनपत राम की किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई। इसके बाद आजाद सिंह और गनपतराम आपस मे भिड़ गये, नौबत गाली-गलौंच और मारपीट तक पहुंच गयी। अध्यापक ने शिक्षामित्र को कई थप्पड़ जड़ दिए। स्कूल मे यह मामला करीब आधे घंटे तक चला। इस बीच स्कूल में पढने वाले बच्चे सहमे रहे। शोर-शराबे को सुनकर गांव के कुछ लोग भी पहुंच गये। इस बीच गनपतराम ने डायल 112 पर फोन कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने तहकीकात की। इसके बाद प्रधानाध्यापिका के शिक्षक नेता पति प्रमोद गंगवार और अन्य स्कूल पहुंचे, और मामले को रफा-दफा करा दिया। मामले मे प्रधानाध्यापिका माया गंगवार से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि कोई खास बात नही थी अब मामला निपटा दिया गया है। वही ब्लाक के खण्ड शिक्षाधिकारी प्रेमसुख गंगवार ने इस पुरे मामले की प्रधानाध्यापिका से रिपोर्ट तलब की है। जैसे ही यह सूचना शिक्षामित्रो मे फैली तो आक्रोश उत्पन्न हो गया। प्राथमिक शिक्षामित्र संघ के ब्लॉक अध्यक्ष संतोष कुमार ने बीईओ से अध्यापक के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। शनिवार को बीईओ से लिखित मे प्रार्थना पत्र देकर करवाई कराएंगे।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।