ओवरलोड वाहनों को पास कराने के एवज में हो रही अवैध वसूली

ग़ाज़ीपुर- जनपद का मलाईदार थाना और हमेशा अखबारों के सूर्खियों में रहने वाला गहमर स्थिति बिहार बार्डर के बारा चौकी पर तैनात इस जाबांज सिपाही को देखिए कप्तान हजूर
गाजीपुर डीएम व पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा द्वारा ताडीघाट-बारा मार्ग पर हो रहे निर्माण कार्य के मद्देनजर प्रभाव से ओवर लोड बाहनों पर रोक लगाने के बावजूद ओवर लोड़ बाहनों के पास कराने के एवज में ट्रक से अवैध वसूली बदस्तूर जारी है। रविवार को गहमर थाना के बारा चौकी का सिपाही बिहार-यूपी को जोडनें वाला कर्मनाशा पुल पर रात को कौन कहे दिन में खुलेआम बालू व कोयला लदे ट्रक से वसूली करते सिपाही का वीडियो वायरल हुआ है। गहमर थाना स्थिति बारा चौकी का यह सिपाही योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार यूक्त शासन को किस तरह पलिता लगा रहा है। इसे अपने अधिकारियों का तनिक भी खौफ नहीं है। लगता है जैसे गहमर थाने को एसपी साहब द्वारा वसूली कि लाइसेंस दे दिया गया है। या इनके आदेश निर्देश को मानने को तैयार नहीं। इस से पहले भी गहमर थाना के सेवराई चौकी पर तैनात सिपाही को वसूली के मामले मे पहले लाईन हाजिर फिर सस्पेंड की कार्यवाही की जा चूकी है। इसके बाद भी पुलिसकर्मी अवैध वसूली से बाज नहीं आ रहे हैं । दरअसल गहमर थाना क्षेत्र के बारा के पास बिहार-यूपी को जोडने वाला कर्मनाशा पुल से होते हुए यूपी के सीमा से ओवरलोड़ वाहन वहां से गुजरते है। लेकिन बारा पुल पर खड़े पुलिसकर्मी प्रतिदिन ट्रकों की चेकिंग करते हैं। लेकिन ट्रकों की ओवरलोडिंग रोकने के बजाय ये पुलिस कर्मी इसके एवज में पैसा लेकर इन्हें जाने देते हैं। पुलिस की यह करतूस कई सालो से निरंतर चली आ रही है। माना जा रहा है कि राज्य में सत्ता परिवर्तन के बाद पुलिस की इस प्रकार की कार्यशैली पर विराम लगेगा। लेकिन पुलिस है कि बिना किसी खौफ अपने इस कार्य में मशगूल है। इस मामले में पुलिस अधीक्षक सोमेन वर्मा ने बताया कि मामला बेहद गंभीर है इसकी जांच कराकर इस में लिप्त लोगों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी उन्होंने कहा कि इस तरह की हरकतें किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जाएगी साथ ही उन्होंने बताया कि इस तरह के मामलों की सामने आने पर अगर संलिप्तता सही पाई जाती है तो इस मामले में संबंधी थाना के प्रभारी के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी इस तरह की हरकतें बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
– गाजीपुर से प्रदीप दुबे की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।