एसोसिएशन ऑफ टैक्स पेयर्स एंड प्रोफेशनल की चौथी वार्षिक बैठक ग्वालियर में हुई सम्पन्न

ग्वालियर/मध्यप्रदेश- एसोसिएशन ऑफ टैक्स पेयर्स एंड प्रोफेशनल की चौथी वार्षिक बैठक एवं तकनीकी सत्र ग्वालियर में सम्पन्न हुआ। चैथी वार्षिक बैठक एवं तकनीकी सत्र की अध्यक्षता राष्ट्रीय चेयरमैन अंजनी श्रीवास्तव ने की जबकि संचालन राष्ट्रीय महासचिव पराग सिंघल ने किया। मुख्य अतिथि के रुप में टैक्स बार एसो., ग्वालियर के पूर्व अध्यक्ष अशोक कुमार गुप्ता पधारे।

सत्र के दौरान सीए स्वपनिक मुनौट (पुणे) शिक्षा क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने के लिए एडवोकेट केसी अग्रवाला फैलोशिप अवार्ड, सदस्यता वृद्धि हेतु सीए आरके अग्रवाल को एडवोकेट प्रसून्न गुप्ता फैलोशिप, संस्था के मध्य प्रदेश में विस्तार हेतु एडवोकेट प्रमोद राजे अवार्ड अधिवक्ता अखिलेश अग्निहोत्री को और अध्यक्षीय विशेष पुरस्कार अंकुर गंगल, अलीगढ़ को प्रदान किये गये।

सदस्यता वृद्धि हेतु अन्य पुरस्कारों में अंकुर गंगल, (अलीगढ़) अमित खरे (छत्तरपुर), कृष्ण मुरारी वर्मा (मथुरा) को प्रदान किया गया।

तकनीकी सत्र के दौरान फोरम की गृह पत्रिका समन्वय 24 का विमोचन मुख्य अतिथि अशोक कुमार गुप्ता, राष्ट्रीय चेयरमैन अंजनी श्रीवास्तव ने की जबकि संचालन राष्ट्रीय महासचिव पराग सिंघल, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष संदीपक बंसल, संयुक्त सचिव दीपक गोयल एवं अखिलेश अग्निहोत्री, प्रदेश अध्यक्ष प्रमोद गुप्ता, प्रदेश महासचिव रविन्द्र खरे, आरके अग्रवाल, राजेन्दर अरोड़ा एवं स्वपनिल मुनौट के साथ संपादक मंडल सदस्य उमराव सिंह यादव, गोविन्द शरण अग्रवाल एवं अभिषेक सक्सैना ने किया।

तकनीकी सत्र में रामपुर के सीए आरके अग्रवाल ने आयकर की धारा-263 में रिवीजन, सीए स्वपनिल मुनौट ;पुणेद्ध ने जीएसटी की धारा-67 के नोटिस एवं कार्यवाही, धर्मशास्त्र लाॅ काॅलेज, जबलपुर के सहायक प्रोफेसर अाित श्रीवास्तव ने धारा-129, सीए राजेन्दर अरोड़ा, दिल्ली ने जीएसटी के अन्तर्गत प्राप्त हो रहे नोटिसों के जबाब एवं सीए सुशील गुप्ता दिल्ली ने आयकर के तहत माननीय उच्चतम न्यायालय एवं उच्च न्यायालयों के नये -नये निर्णयों का सदन के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि अशोक कुमार गुप्ता ने कहा कि फोरम के लिए यह बहुत गर्व का विषय है कि एक मध्य प्रदेश में अपनी पहचान बनाई है। वास्तव में मध्य प्रदेश टीम तो बधाई की पात्र है। साथ ही कहा कि फोरम की उद्देश्य बहुत ही प्रभावशाली हैं और करदाताओं के साथ टैक्स प्रोफेशनल्स के हित में है। आज देश में 78 साल पुराने कर प्रणाली यानि टैक्स लागू हैं, जिनकी मूल भावना सजा और उत्पीड़न है जबकि करदाताओं के साथ टैक्स प्रोफेशनल्स, जोकि सरकार को टैक्स के रुप में राजस्व दे रहे हैं, उनको सुरक्षा और प्रोत्साहन देना चाहिए न कि सजा और दंड। फोरम इस दिशा में काम कर रहा है। अतः प्रत्येक सदस्य बधाई के पात्र हैं। मैं हमेशा सहयोग के लिए तत्पर हूं और रहूंगा कि इस कार्य में सहयोगी के रुप में जाना जा सकंू।

कार्यक्रम के दौरान महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम हेतु श्रीमती काजल सिंघल, मोनिका गोयल, सुमन शर्मा, शालिनी पारासर, प्राची गर्ग, विभा गंगल एवं कीर्ति बंसल को सम्मानित किया गया।

अंत में आयोजन समिति के सदस्यों गोविन्द शरण अग्रवाल, अमित खरे, सचिव खरे, अभिषेक खरे, संजय मिश्रा,अभिषेक सक्सैना, कृष्ण मुरारी वर्मा एवं अंकुर गंगल को स्मृति चिन्ह् देकर सम्मानित किया गया।

इस सफल आयोजन में उत्तर प्रदेश, राजस्थान व हरियाणा व अन्य राज्यों के सदस्य उ.प्र.चैप्टर के अध्यक्ष संदीप सिंह व महासचिव आशुतोष सिंघल, राजस्थान चैप्टर के उपाध्यक्ष गणेश कुमार शर्मा, महासचिव उमराव सिंह यादव व जेबी गुप्ता के नेतृत्व में सदस्यों ने बढ़ चढ़कर सहभागिता का निर्वहन किया है। सत्र में करुणेश शर्मा (रुड़की), सुनील ध्यानी (देहरादून), मित्रा शर्मा (नोएडा), रामचन्द्र यादव एवं विष्णुभारद्वाज (जयपुर) पवन कुमार गौतम (श्रीगंगापुर सिटी) रजत गोयल (मुरादाबाद) पीके भांडा एवं अंकुर अग्रवाल, (रामपुर) दीपक (टीकमगढ़), प्रणय देशवाल एवं अनिल चैबे (नर्मदापुरम), अंकित गुप्ता, अनुभव गुप्ता, सोनू (ग्वालियर), संजीव गुप्ता (मेरठ), रुपक शर्मा व जलज पारासर (हापुड़), हर्षल शर्मा, मान सिंह, राम कुमार, वीपी गोस्वामी, योगेश वर्मा, मिकिन्द्र गुप्ता, राजन्द्र अग्रवाल (मथुरा), पीयूष गर्ग (बुलन्दशहर), बलवीर सिंह (दिल्ली) अनिमेष मित्तल (गाजियाबाद), मनीष विश्वकर्मा (पन्ना) औंकार चैरसिया, सौरभ खैरसिया, निरंकार चैरसिया, खेमचन्द (छत्तरपुर), ने अन्य सदस्यों ने भाग लिया।

कार्यक्रम के अंत में राजस्थान चैप्टर के उपाध्यक्ष गणेश कुमार शर्मा ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि कार्यक्रम में आप सभी ने अपना कीमती समय निकालकर भागीदारी निभायी अतः सभी सदस्यों व पदाधिकारियों का दिल की गहराइयों से धन्यवाद देते हैं। लेकिन जो सदस्य कार्यक्रम में नहीं पहुंच पाए वह अवश्य ही अगले कार्यक्रम में अपनी भागीदारी निभाएंगे।

तकनीकी सत्र का संचालन अंकुर अग्रवाल (रामपुर) ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।