ईदगाह में नमाज़ के समय बच्चों के हाथ में लिया गया पोस्टर बना चर्चा का विषय

बरेली – बाकरगंज ईदगाह बरेली में प्रशासन की मौजूदगी में शांतिपूर्ण ढंग से ईद की नमाज़ अदा हुई। नमाज़ के समय नमाजी़ नमाज़ पड़ रहे थे एक युवक और दो बच्चे पोस्टर लेकर खड़े थे पोस्ट पर लिखा था हु इस टेररिस्ट नाजिश हिटलर सरकार जर्मनी में 1940-1945 के समय 127 बच्चों की हत्या हुई थी यहूदी समाज के लोग जर्मनी सें हिटलर के डर से पलायन करने को मजबूर हुए दुनिया के किसी भी देश नें शरण देने से इनकार किया अरब देश फिलिस्तीन नें यहूदियों को शरण दी यहूदियों ने शरण लेने के बाद फिलिस्तीन के ऊपर कब्जा़ कर लिया जिस प्रकार अंग्रेजों ने भारत पर कब्जा कर भारतीयों को अपना गुलाम बनाया गुलाम बनाने के बाद भारतीयों पर अत्याचार किए गए देश की आजा़दी के लिऐ लड़ने वाले क्रांतिकारियों को फांसी पर लटकाया गया अंग्रेजों के विरोध में बोलने वालों पर आपराधिक मुकदमे लिखे गऐ अंग्रेजी हुकूमत सत्ता के नशे में आकर भारतीय लोगो पर अत्याचार करती रहे देश के वीर सपूतों की अपने कानून के मुताबिक सजा़ देती रही भारत की आजा़दी में देश के क्रांतिकारी महापुरुषों का हाथ रहा देश की आजादी के लिए वीर पुरुषों ने अपनी कुर्बानी दी देश के लिए वह लोग हीरो बन गऐ फिलिस्तीन पर इसराइल के द्वारा लगातार हमले जारी हें जिसके कारण बच्चे बूढ़े महिलाओं हॉस्पिटल पर हमला कर लगातार हत्या की जारी है जिस की आवाज़ उठाने के लिऐ एक युवक नें दो बच्चों के साथ पोस्टर लेकर खड़ा हुआ था फिलिस्तीन में हो रहे अत्याचार के विरुद्ध पोस्टर दिखा कर दुनिया को हकीकत दिखा दी इसराइल सरकार नें अब तक की जंग में 178 बच्चों की हत्या की हैं ईदगाह में जमा भीड़ उस युवक को देखने लगी अधिकारियों ने मामले को संज्ञान में लेते हुए युवक के हाथ से पोस्टर ले लिऐ सभी संस्थाओं के कैंप ईदगाह में लगे हुए थे इंडिया गठबंधन प्रत्याशी पूर्व सांसद प्रवीण सिंह ऐरन राष्ट्रीय रिपब्लिक पार्टी इंडिया आठवले नदीम इकबाल प्रबंधक ईदगाह कमेटी खलील कादरी महताब खान शानू खान डॉ कदीर अहमद पाक़ीज़ा खान शमीम सुल्तानी कमर अली शानू पेंटर सिविल डिफेंस अमन कमेटी बरेली पदाधिकारी मौजूद रहे।

– बरेली से तकी रज़ा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।