इश्क मे बिहार की शमा परवीन बनी पूनम, शिवम संग लिए सात फेरे

बरेली। बिहार के औरंगाबाद की रहने वाली शमा परवीन बलिया के शिवम वर्मा के प्यार में पूनम बन गई। शमा परवीन ने हिंदू धर्म अपनाकर अपना नाम पूनम देवी कर लिया। बरेली के एक आश्रम मे पूनम ने अपने प्रेमी संग सात फेरे लिए। आचार्य केके शंखधार ने हिंदू परंपरा के अनुसार दोनों का विवाह कराया। शमा परवीन और शिवम की प्रेम कहानी बेहद दिलचस्प है। औरंगाबाद के काजी चकवा निवासी शमा परवीन ने हाईस्कूल तक पढ़ाई है जबकि शिवम वर्मा आठवीं पास हैं। वह सर्राफ कारीगर है। सोने-चांदी के जेवर बनाने का काम करते हैं। शमा परवीन के मुताबिक एक साल पहले वह एक कार्यक्रम में बक्सर गई थीं। वहीं उनकी मुलाकात शिवम से हुई। बातचीत के दौरान दोनों ने एक-दूसरे का फोन नंबर ले लिया। अक्सर दोनों में बातें होने लगी। शमा और शिवम की बातचीत का सिलसिला प्यार मे बदल गया। दोनों ने साथ जीने और मरने की कसमें खा ली। शमा परवीन ने बताया कि हिंदू धर्म के प्रति उनकी आस्था है। यहां नारियों का सम्मान किया जाता है। इसलिए उन्होंने धर्म परिवर्तन करने का निर्णय लिया। शिवम वर्मा ने बताया कि उन्हें बरेली के आचार्य केके शंखधार के बारे में जानकारी हुई जो ऐसे प्रेमी युगल की शादी कराते है। इसके बाद शिवम वर्मा और शमा परवीन बरेली आ गए। दोनों अगस्त्य मुनि आश्रम मे पहुंचे जहां केके शंखधार से विवाह कराने का आग्रह किया। केके शंखधार के समक्ष शमा परवीन ने धर्म परिवर्तन कर अपना नाम पूनम देवी रख लिया। इसके बाद दोनों ने शादी कर ली। पूनम ने बताया कि उन्होंने स्वेच्छा से हिंदू धर्म अपनाकर प्रेमी से विवाह किया है। इसमें किसी की जोर जबरदस्ती नही है। शमा परवीन उर्फ पूनम का कहना है कि उनके परिवारवालों को भी कोई एतराज नही है। ससुराल के लोग बहुत अच्छे हैं। वह शादी करके बेहद खुश है। शिवम ने भी जिंदगीभर शमा परवीन का साथ देने का वादा किया। अगस्त्य मुनि आश्रम में शादी करने के बाद दोनों अपने घर चले गए।।

बरेली से कपिल यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।