आंखों के रोगियों को लाला लाजपतराय अस्पताल में रेटीना के मरीजों को मिलेगी आधुनिक उपकरणों से चिकित्सा सुविधा

कानपुर- आज नेत्र विभाग में आधुनिक उपकरण उपलब्ध कराए जाने और इसके उपयोग का शुभारंभ आयुक्त कानपुर मंडल डाक्टर राज शेखर ने रिबन काट कर किया। इस अवसर पर उनका स्वागत प्रधानाचार्य डाक्टर संजय काला ने किया,नीरज श्रीवास्तव का सम्मान उप प्रधानाचार्य डाक्टर रिचा गिरी ने और सुदीप गोयनका का सम्मान डाक्टर परवेज ने किया।

नेत्र विभाग के विभागाध्यक्ष डॉक्टर परवेज खान ने समारोह के मुख्य अतिथि आयुक्त कानपुर मंडल राजशेखर का तथा अन्य अतिथियों का स्वागत करते हुए आभार व्यक्त करते हुए कहा की नेत्र विभाग में ।रोगियों की बढ़ती हुई संख्या और लेजर तथा सीटी स्कैन जैसे उपकरण के अभाव से रोशनी जैसे महत्वपूर्ण रोगियों का इलाज संभव नहीं हो पा रहा था,उन्होंने बताया की विभाग में नीरज श्रीवास्तव ने इस अभाव को देखा और ,हमने उनसे इन उपकरण को स्थानीय संसाधनों से उपलब्ध करवाने के लिए कहा जिस पर उन्होंने डॉक्टर राजशेखर जी से वार्ता की और राजशेखर जी ने और इसकी आवश्यकता को महत्वपूर्ण मानते हुए गोल्डी मसाले समूह के प्रबंध निदेशक श्री सुदीप गोएंका से सीएसआर फंड से इन उपकरणों को क्रय करवा कर नेत्र विभाग को उपलब्ध कराए जाने को कहा जिसे तत्काल ही सुदीप गोएंका ने स्वीकार करते हुए यह उपकरण उपलब्ध करवा दिए।

डाक्टर परवेज ने बताया की इन उपकरणों की उपलब्धता से रेटीना की गंभीर में बीमारी डायबिटीज रेटिनोपैथी के लाभाग 100 रोगियों का प्रति दिन इलाज संभव हो सकेगा, उन्हे जांच के बाहर नही भटकना पड़ेगा और रोगियों को जीवन की रोशनी मिल सकेगी।

डाक्टर परवेज ने आयुक्त राजशेखर से अनुरोध किया की इस संस्थान के नेत्र विभाग में उच्च शिक्षित विषेषज्ञ डाक्टर उपलब्ध है, कुछ सुविधाएं और बढ़ जाने से ,यह विभाग जीवन की रोशनी देने वाला।प्रदेश का महत्वपूर्ण विभाग बन जायेगा,उन्होंने कार्निया सुरक्षित रखने के भवन निर्माण जिस पर करीब 40 लाख का व्यय होगा,उपलब्ध करवाने को कहा

इस अवसर पर कार्निया ट्रांसप्लांट कराकर रोशनी वापस लाए जाने का लाभ ले रहे लाभार्थी और कार्निया दान देने वाले मृतक परिवार के सदस्यों का सम्मान किया गया साथ ही श्री मदनलाल भाटिया जिन्होंने समाज सेवा करते हुए 192 कार्निया सुरक्षित करवाते हुए विभाग को उपलब्ध कराए ,उनका भी आयुक्त ने सम्मान किया।

आयुक्त डाक्टर राजशेखर ने डाक्टर परवेज की इस पहल की सराहना करते हुए,स्मार्ट सिटी के अंतर्गत कार्निया आई बैंक के भवन निर्माण के वित्त पोषण को स्वीकृत करते हुए कार्यवाही हेतु नगर आयुक्त को निर्देशित भी कर दिया ।
राजशेखर ने कहा की जिस गति से सम्पूर्ण विश्व में आंखो के के रोगियों की बढ़ती संख्या जिसका एक बड़ा कारण डायबिटीज रोग में बेतहाशा वृद्धि, हो रही है,विशेष रूप से रेटीना के मरीजों में डायबिटीज रेटिनोपैथी जैसी गंभीर बीमारी के इलाज में आधुनिक उपकरण की जरूरत है,उन्हों ने कहा की चिकित्सा के क्षेत्र में माननीय मुख्यमंत्री जी बेहद गंभीर है,इसी क्रम में हमारी भी कोशिश है की कुछ कार्य स्थानीय संसाधन और उद्योग समूह के सी एस आर फंड से सहयोग लेकर करवा जाए।हमारा आभार है गोल्डी समूह के सुदीप गोयनका का जिन्होंने इसके लिए धनराशि स्वीकृत करते हुए उक्त उपकरण कृय करके नेत्र विभाग को उपलब्ध कराए।
आयुक्त राजशेखर ने हर्ष व्यक्त किया की इस विभाग में रेटीना के विषेषज्ञ डाक्टर परवेज और कार्निया ट्रांसप्लांट की विषशज्ञ डाक्टर शालिनी मोहन के अतिरिक्त अन्य विशेषज्ञ स्टाफ उपलब्ध हैं,उन्होंने डाक्टर परवेज जिन्हो ने शंकर नेत्रालय से फेलोशिप की और 2006 से सेवा करते हुए विभाग को ऊंचाई देने की कोशिश है,उन्होंने नीरज श्रीवास्तव जिनका कानपुर के विकास में बड़ा योगदान है,उनके चिकित्सा क्षेत्र में भी योगदानों की सराहना की।
प्रधानाचार्य डाक्टर संजय काला के अनुरोध पर शासन में प्रेषित प्रस्ताव की स्वीकृत हेतु कार्यवाही के लिए शीघ्र बैठक कराए जाने को कहा है।
समारोह में प्रमुख अधीक्षक डाक्टर आर के मौर्य, डाक्टर शालिनी मोहन,डाक्टर यशवंत राव,डाक्टर पारुल सिंह ,डाक्टर सुरभि अग्रवाल
डाक्टर नम्रता पटेल तथा अन्य विभागीय और कार्निया दान दाता परिवार के सदस्य ,तथा कार्निया ट्रांसप्लांट लाभार्थी मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

किसी भी समाचार से संपादक का सहमत होना आवश्यक नहीं है।समाचार का पूर्ण उत्तरदायित्व लेखक का ही होगा। विवाद की स्थिति में न्याय क्षेत्र बरेली होगा।